इतना कूदे कि हिल गई धरती
कानपुर। फीफा वर्ल्ड कप 2018 को शुरु हुए पांच दिन हुए हैं कि, कई रोचक मुकाबले देखने को मिल गए। ऐसा ही एक इंट्रैस्टिंग मैच रविवार को जर्मनी और मैक्सिको के बीच खेला गया। इसमें पिछली बार की चैंपियन जर्मनी को 0-1 से हार झेलनी पड़ी। साल 1982 के बाद पहली बार ऐसा हुआ कि जर्मनी वर्ल्ड कप में अपना पहला मैच हार गया। यह मुकाबला सिर्फ मैक्सिको की जीत ही नहीं उनके फैंस के सपोर्ट के लिए जाना जा रहा। दरअसल अपनी टीम की जीत की खुशी पर फैंस इतना कूदे कि धरती हिल गई और भूकंप आ गया।
फीफा वर्ल्ड कप : टीम की जीत की खुशी पर फैंस इतना कूदे कि हिल गई धरती,आ गया भूकंप
सिसमोग्रॉफ पर किया गया रिकॉर्ड
द गार्जियन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार को मॉस्को में दोनों टीमों के बीच सुबह 11 बजे मैच शुरु हुआ। आधे घंटे बाद जैसे ही मैक्सिको के खिलाड़ी हिरविंग लोजानो ने पहला गोल दागा तो मैक्सिको के फैंस में उत्साह भर गया, सभी जमकर जश्न मनाने लगे और कूदने लगे। इंस्टीट्यूट ऑफ जियोलॉजिकल एंड एटमॉस्फियर इनवेस्टिगेशन ने एक रिपोर्ट जारी की जिसमें कहा गया कि, खेल के 35 मिनट बाद खिलाड़ी ने जैसे ही गोल दागा तो अगले सात सेकेंड में एक बड़ा झटका महसूस किया गया। सिसमोग्राफ पर भी इसे रिकॉर्ड किया गया। यह एक ऑर्टिफिशियल भूकंप था जिसे भारी संख्या में लोगों द्वारा कूदे जाने पर पैदा हुआ था।
फीफा वर्ल्ड कप : टीम की जीत की खुशी पर फैंस इतना कूदे कि हिल गई धरती,आ गया भूकंप
1982 के बाद पहली बार अपना ओपनिंग मैच हारा जर्मनी

जर्मनी और मेक्सिको के बीच खेले गए मैच में ऐसा पहली बार हुआ है जब 1982 के बाद जर्मनी अपना पहला मैच हारी है। इससे पहले अपने चारों मैचों में जर्मनी को कुल 20-2 से मैच में जीत मिली है। रिपोर्ट के अनुसार मेक्सिको पुलिस ने एंजल ऑफ इंडिपेंडेस स्मारक का घेराव कर दिया है जहां मेक्सिको के फुटबॉल फैंस ने बड़ी तादाद में जर्मनी के खिलाफ गोल होने के बाद जश्न मनाया था। गोल होते ही जहां कई फैंस कूदने लगे वहीं कई लोग गाड़ियों का हॉर्न भी बजाने लगे। साथ में कुछ लोग ऐसे जश्न में डूबे की सड़कों पर मेक्सिको का झंडा और जर्सी पहन कर पूरे शहर में झूमने लगे।

एक मशहूर क्रिेकेटर अंपायर जिसे फुटबॉल वर्ल्ड कप मैच में बना दिया गया रेफरी

फीफा वर्ल्ड कप : जानें क्या होता है आत्मघाती गोल, जिसे करने पर एक खिलाड़ी को गंवानी पड़ी थी जान

inextlive from News Desk