-कुछ अस्थायी मान्यता प्राप्त कॉलेजों ने परीक्षा कराने में जताई असमर्थता

- निस्तारण में जुटा यूनिवर्सिटी, 18 सेंटर बदलने की संभावना

काशी विद्यापीठ के स्नातक के परीक्षार्थियों को परीक्षा देने के लिए 35 किमी का चक्कर लगाना होगा. कुछ कॉलेजेज का केंद्र 25 से 35 किमी दूर बना दिया गया है. इतना ही नहीं कुछ अस्थायी मान्यता प्राप्त महाविद्यालयों को भी केंद्र बना दिया गया है. ऐसे महाविद्यालयों ने परीक्षा कराने में असमर्थता भी जता दी है.

परीक्षा केंद्र को लेकर अब तक 50 से अधिक महाविद्यालय आपत्ति दर्ज करा चुके हैं. यूनिवर्सिटी एडमिनिस्ट्रेशनइन आपत्तियों के निस्तारण में जुटा हुआ है. ऐसे में करीब 18 परीक्षा केंद्र बदले जाने की संभावना जताई जा रही है. बहरहाल संशोधित केंद्रों की सूची अगले सप्ताह जारी कर दी जाएगी.

परीक्षाएं 26 से

स्नातक की वार्षिक परीक्षा 26 फरवरी से शुरू हो रही है. दो शिफ्ट में यह परीक्षाएं 26 अप्रैल तक चलेंगी. इस प्रकार परीक्षाएं दो माह तक चलेंगी. स्नातक के 273531 परीक्षार्थियों के लिए वाराणसी, भदोही, चंदौली, मीरजापुर, सोनभद्र व बलिया जनपद में 243 केंद्र बनाए गए हैं. वहीं शासन के स्पष्ट निर्देश के बाद भी कई कॉलेजेज में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगवाये गये हैं.