- आज की डिबेट: डीडी पुरम स्थित बंसरी वाला रेस्त्रां में शाम 4:00 बजे.

bareilly@inext.co.in

BAREILLY:
देश का विकास कौन सा नेता कर सकता है और कौन देश में रोजगार के अवसर बढ़ाएगा. आज का यूथ यह सब अच्छी तरह से समझ गया है. उसने पहले से ही तय कर लिया है कि वह वोट किसे देगा. यूथ का कहना है कि जो सरकार सैनिकों का प्यार और सम्मान देंगे, उसे ही वह अपना वोट देंगे. जिस सरकार को देश और उसकी जनता से प्यार नहीं, यूथ उसे अपना वोट नहीं देगा. युवा वही नेता चुनेंगे जो उनके लिए काम करेगा. एजुकेशन के साथ ही रोजगार के अवसर मुहैया कराएगा. युवा अब नेताओं को अपने वोट की पॉवर दिखाएगा. डीडी पुरम स्थित बॉडी पॉवर जिम में सैटरडे को दैनिक जागरण आईनेक्स्ट और रेडियो सिटी के राजनी-टी में युवाओं ने अपनी बात रखी. इसके साथ ही एजुकेशन, रोजगार, करप्शन आदि मुद्दों पर भी युवाओं ने अपनी राय दी.

सैनिक देश की करते रक्षा
डिबेट में दीपक भाईखेल ने कहा कि जो सरकार देश की सेना को प्यार नहीं कर सकती है, वह हमारे किसी काम की नहीं है. देश की रक्षा के लिए सैनिक बॉर्डर पर 24 घंटे खड़े रहते हैं और अपनी जान न्यौछावर कर देते हैं. इसलिए हमें सैनिकों की सम्मान करने वाली सकरकार चाहिए. वहीं हेमा भाईखेल ने कहा सरकार योजनाएं तो बहुत लाती है, लेकिन किसी भी योजना का एम्पलीमेंट नहीं होता है, जिससे जनता उसका लाभ नहीं ले पाती है. जो जनता के लिए योजनाएं बनाकर उसका लाभ जनता को देगी, यूथ उसी को अपना वोट देगा.

पोर्टल पर नहीं होता समाधान

शिवांश ने कहा कि सरकार लोगों की समस्या के समाधान के लिए बहुत काम करती है. समस्याओं के समाधान के लिए कई पोर्टल और एप्लीकेशन भी लांच किए हैं, लेकिन इन पर कभी भी समाधान नहीं होता है. सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए. शिवांश ने कहा कि सरकार के आईजीआरएस पोर्टल पर शिकायत पर भी समाधान नहीं होता है. वहीं दिखाने के लिए इस पर फर्जी निस्तारण भी कर दिया जाता है. आला अफसर ही इसमें पलीता लगाने के लिए बैठे है.

बढ़े रोजगार के अवसर
सुजीत ने कहा कि देश की तो बात छोड़ो, हमारे शहर में ही काफी बेरोजगार हैं. सरकार को रोजगार के अवसर बढ़ाने चाहिए. अजय शर्मा ने कहा कि हमारे देश में इंडस्ट्रीज स्थापित करने चाहिए, जिससे लोगों को रोजगार मिले. साथ ही लोगों को स्वरोजगार के लिए लोन प्रक्रिया को आसान बनाना चाहिए. जिससे युवा खुद अपना रोजगार स्थापित कर सके और दूसरों को भी रोजगार दे सकें. यूथ के लिए रोजगार बढ़ाने वाले को ही वोट करेगा.

नेताओं का भी हो एग्जाम
शिवांश ने कहा जिस तरह से बच्चों को किसी बड़े पद पर बैठने के लिए एक एग्जाम देना पड़ता है, उस तरह से किसी नेता को पॉलिटिक्स में आने के लिए एग्जाम करना चाहिए. पॉलिटिक्स में ज्यादातर क्रिमिनल रिकॉर्ड वाले हैं. सरकार को यह रूल बनाना चाहिए कि जिस तरह से किसी स्टूडेंट्स को एक आईएएस ऑफिसर बनने के लिए एग्जाम क्वालीफाई करना होता है, इंटरव्यू देना होता है. उसके बाद उसे एक अधिकारी बनाया जाता है. ठीक उसकी तरह से एक नेता को भी एग्जाम, इंटरव्यू सभी देना चाहिए.

कड़क मुद्दा
आज के युवा को वो नेता नहीं चाहिए जो सिर्फ बड़ी-बड़ी बातें करे. उसे वो नेता चाहिए, जो नेता सेना की इज्जत करे. उसके परिवार की इज्जत करे और लोगों को समझे. कुल मिलाकर देश के लिए जीने वाला नेता चाहिए. अपनी जेब भरने वाला नेता बिल्कुल भी नहीं चाहिए.

मेरी बात

- मुझे उस नेता को वोट देना अच्छा लगेगा, जो हमारे देश का विकास करेगा. जब देश का विकास होगा तभी हमें भी रोजगार मिलेगा. जो रोजगार न दे सके, ऐसी सरकार किसी काम की नहीं है. इसलिए हमें काम करने वाली सरकार चाहिए.

प्रिया गोयल

सरकार को हमारे देश में सबसे पहले रोजगार पर ध्यान देना चाहिए. आज का यूवा सिर्फ रोजगार चहाता है और कुछ नहीं. जो सरकार उसके लिए रोजगार देगी, वो ही सरकार हमारे और हमारे साथियों के लिए बेहतर है.

गौरव कुमार सक्सेना


-सरकार को जनता का दुख दर्द समझना चाहिए. उसकी समस्याओं का समाधान करना चाहिए. जो नेता देश का दर्द और उसकी जरूरत समझेगा, मै उसे ही वोट करना चाहूंगा.

अजय शर्मा


-----------------

-हमारे देश के हर नेता को पॉलिटिक्स में घुसने से पहले एक एग्जाम का क्वालीफाई करने का प्रावधान बनाना चाहिए. जिससे कोई भी अशिक्षित नेता पॉलिटिक्स में न आने पाए.

शिवांश शर्मा


-------------------

- पॉलिटिक्स में पैर रखने से पहले नेता को हिंदु-मुस्लिम सभी धर्मो को त्यागना होगा. उसे जाति-पाति भूलकर काम करना होगा. जो इस बात पर ध्यान देगा, मेरा वोट उसे ही जाएगा.

ऋषभ चौधरी


-------------

-करप्शन की शुरुआत कहीं न कहीं हम लोगों से ही होती है. इसीलिए करप्शन को रोकने के लिए हम लोगों को ही पहल करनी होगी तभी करप्शन रुकेगा. वरना सरकार कितना भी चाहे कुछ नहीं हो सकता.

अभिषेक गंगवार


---------------

- सरकार को पुलिस प्रशासन को अलर्ट रखना चाहिए. जब तक पुलिस प्रशासन अलर्ट पर नहीं होगा तब तक देश से क्राइम कम नहीं होगा. देश से क्राइम को हटाना है तो सरकार को पुलिस को बेहतर बनाने पर काम करना होगा.

सुजीत चक्रव्रती


वोट देने से पहले हम पहले की सरकार और अब की सरकार दोनों में कम्पेयर करेंगे. किस सरकार में क्या हुआ और उसका क्या इफेक्ट पड़ा, तब जाकर वोट करेंगे.

दीपक भाईखेल


- प्रत्याशी ऐसा होना चाहिए जो जनता के हित में हमेशा काम करे. ऐसा नहीं होना चाहिए तो सिर्फ अपने वारे में सोचे.

हेमा भाई खेल



------------

- नेता वो होना चाहिए जो देश और इंडस्ट्रीज को रन करें. उसे रोक कर न रख दे. कुल मिलाकर कहना चाहूंगा कि जो नेता योजनाओं को जमीन पर उतारे, वो नेता चाहिए.

उमेश हिरवानी



-आज के युवाओं को सबसे ज्यादा जरूरत है रोजगार की और जो सरकार अपने कार्यकाल में युवाओं को रोजगार भी न दिला पाए, वो सरकार किसी काम की नही है.ं

रूबी मिश्रा


---------------------

-सरकार की योजनाओं को गांव के लोगों को पता ही नहीं चल पाता है. सरकार को समय-समय पर गांव में लोगों को अपनी योजनाओं के बारे में अवेयर करना चाहिए.

गरिमा सक्सेना


सतमोला खाओ कुछ भी पचाओ

हमारे देश का काफी युवा बेरोजगार है. लेकिन सरकार उसके लिए कुछ कर ही नहीं रही है. ऐसे में युवा क्या सोचकर किस नेता को वोट करे. जो नेता यह बोले कि वो युवाओं की दिक्कत को खत्म करेगा. आज का युवा उसे वोट देगा, लेकिन ऐसा नहीं है कि नेता सिर्फ बोलकर ही शांत हो जाए. कुल मिलाकर जो अपनी बात पर अडिग रहे हमारा युवा उसे वोट करेगा.