-- बाढ़ से गुजैनी वाटर व‌र्क्स डूब जाने के कारण तीसरे दिन भी साउथ सिटी में ड्रिंकिंग वाटर सप्लाई रही ठप

-- जलनिगम की लाइन से जोड़कर रतनलाल नगर में वाटर सप्लाई करने में मिली सफलता

kanpur@inext.co.in

KANPUR: साउथ सिटी में एक तरफ पानी ही पानी है. बाढ़ के कारण लोगों को घर छोड़ना पड़ा है. वहीं दूसरी ओर लाखों की आबादी पानी के लिए तरस रही है. फिलहाल दोनों ही समस्याओं से साउथ सिटी के लोगों को ड्रिंकिंग वाटर क्राइसिस से छुटकारा मिलता नजर नहीं आ रहा है.

डूबे वाटर व‌र्क्स में और बढ़ा पानी

पांडु नदी के उफान पर आने के कारण इससे जुड़ी नहर का पानी रविदासपुरम गुजैनी के साथ ही वाटर व‌र्क्स में भर गया है. इसकी वजह से वाटर व‌र्क्स के साथ पम्प हाउस, मोटरें, क्लियर वाटर रिजरवॉयर डूब चुका है. थर्सडे को वाटर व‌र्क्स से पानी निकलने की बजाए और बढ़ गया है. इससे पिछले तीन दिनों से 22 एमएलडी के गुजैनी वाटर व‌र्क्स से वाटर सप्लाई ठप है. दबौली, गुजैनी, जनता नगर, बर्रा, हेमन्त विहार, उस्मानपुर, दामोदर, बर्रा विश्व बैंक आदि इलाकों में वाटर सप्लाई लगातार ठप रहने से ड्रिंकिंग वाटर को लेकर हाहाकार मचा हुआ है.

रतनलाल नगर में चालू हुई वाटर सप्लाई

थर्सडे को जलकल के ऑफिसर्स ने गंगा बैराज से आने वाली जलनिगम की लाइन में लगे वॉल्व से जोड़कर रतनलाल नगर की वाटर सप्लाई शुरू कर दी. इसमें सफलता मिलने से जलकल ऑफिसर्स ने इसके साथ ही बर्रा आदि इलाकों में लगे वॉल्व तलाशने शुरू कर दिए. जिससे कि बर्रा और अन्य मोहल्लों में वाटर सप्लाई शुरू हो सके. जलकल के एक्सईएन एके राजपूत ने बताया कि अगर बर्रा में लगे जलनिगम के वॉल्व से वाटर सप्लाई लाइन जोड़ने में सफलता मिल जाती है तो साउथ सिटी में वाटर सप्लाई की समस्या काफी हद तक हल हो सकती है.