छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र : छह साल में 120 अवैध हथियार शहर व इसके आसपास बेचे गए हैं. इसका खुलासा मानगो पुलिस के समक्ष गुरुवार को दाईगुट्टू साव लाइन से गिरफ्तार हथियार निर्माता गोविंद शर्मा ने की. इस संबंध में जानकारी देते हुए मानगो थाना प्रभारी अरुण कुमार महथा ने बताया कि पूछताछ में आरोपित गोविंद शर्मा ने बताया कि वह पिछले छह साल से हथियार निर्माण का काम अपने घर में कर रहे थे. उसने बताया कि एक साल में कम से कम 20 हथियार का निर्माण करते थे. इस तरह छह साल में 120 हथियार की सप्लाई शहर भर में की गयी है. अब पुलिस के समक्ष यह पता लगाना चुनौती बन गयी है कि शहर में 120 हथियार कहां और किसके पास है.

ऐसे हुआ खुलासा

मानगो थाना प्रभारी अरुण कुमार महथा ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि मानगो थाना क्षेत्र के दाईगुट्टू साव लाइन में अवैध हथियार का निर्माण वर्षो से हो रहा है. सूचना मिलते ही पुलिस की टीम दाईगुट्टू रोड नंबर पांच साव लाइन में गुरुवार की सुबह साढ़े दस बजे देशी कट्टा (पिस्तौल) बना रहे गोविंद शर्मा को रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया.

कमरे को कर दिया सील (बाक्स)

पुलिस जब गोविंद शर्मा के घर की तलासी ली तो घर के अंदर एक निर्मित पिस्तौल, दो अर्ध निर्मित पिस्तौल, एक जिंदा गोली, एक खोखा व हथियार बनाने का औजार बरामद किया गया. पुलिस ने हथियार बनाने वाले कमरे को सील कर दिया.

गंगेश के बयान पर ही पकड़ाया

सोनारी के राकेश दुबे पर फाय¨रग के आरोपित व जेल भेजे गए गंगेश सिंह की गिरफ्तारी के बाद ही पुलिस को जानकारी मिल गयी थी कि मानगो के दाईगुट्टू में अवैध ढंग से मिनी गन फैक्ट्री संचालित है. सूचना के बाद पुलिस ने पहले गुप्त रूप से जानकारी प्राप्त किया. पुलिस गोविंद शर्मा के हर गतिविधि पर नजर रख रही थी. जब पुलिस को यह जानकारी मिल गयी कि गोविंद शर्मा अपने घर पर ही हथियार का निर्माण करता है. इसके बाद पुलिस टीम छापेमारी कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया.