ranchi@inext.co.in
RANCHI : नारी निकेतन जैसी संस्थाओं से नाबालिगों के फरार होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. बुधवार को कांके थाना एरिया के अरसंडे स्थित नारी निकेतन से एक नाबालिग लड़की के भाग जाने का मामला सामने आया है. घटना की जानकारी मिलने पर कांके पुलिस भी मौके पर पहुंची, लेकिन लड़की का पता नहीं चला. पुलिस की टीम ने फरार लड़की के फोटोग्राफ सभी थानों को भेजा है. इस बाबत संस्था के संचालकों से भी पूछताछ की जा रही है. मालूम हो कि यह सरकार द्वारा संचालित नारी निकेतन है.

किचेन की खिड़की से फरार
नारी निकेतन की चीफ को-ऑर्डिनेटर अरुणा के अनुसार, मंगलवार की रात खाना खाने के बाद सभी सोने चले गए थे. इस दौरान नाबालिग लड़की ने रसोईघर के पास रखे गए चाबी से रसोईघर को खोल उसकी खिड़की से बाहर निकल गई, गेट छोटा होने की वजह से वो आसानी से बाहर निकल गई, जबकि गेट में ताला बंद था. मालूम हो कि फरार लड़की कांटाटोली निवासी सुशील कच्छप की बेटी है.

बरामदगी के लिए हो रहे प्रयास
फरार नाबालिग लड़की की सकुशल बरामदगी के लिए पुलिस हर संभव प्रयास कर रही है. बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन के अलावा कई सार्वजनिक स्थलों पर पर उसकी तस्वीर भेजी गई है, ताकि पहचान में आसानी हो. नारी निकेतन की चीफ को-ऑर्डिनेटर अरुणा ने बताया कि नारी निकेतन की बाउंड्री ऊंची तो कर दी गई है, लेकिन गेट नीची होने का फायदा उठाकर वह भाग निकली.

पहले भी हो चुकी है फरार
अरसंडे स्थित नारी निकेतन से फरार होने वाली नाबालिग लड़की के भागने का पुराना रिकॉर्ड रहा है. इससे पहले वह प्रेमाश्रय में रह रही थी, जहां से भी वह लापता हो गई थी. इसके उपरांत वेस्ट बंगाल के बांकुड़ा से उसे चाइल्ड हेल्पलाइन के द्वारा बरामद कर नारी निकेतन के हवाले कर दिया गया था.