-23 मई को इलेक्शन के रिजल्ट वाले दिन आरयू में सेमेस्टर एग्जाम

-31 मई को एमएड इंट्रेंस एग्जाम वाले दिन बीएड करा भी एग्जाम

बरेली:

आरयू प्रशासन बगैर प्लानिंग के ही एग्जाम शेड्यूल जारी कर स्टूडेंट्स की परेशानी बढ़ा देता है। कभी एग्जाम में स्टूडेंट्स द्वारा चुने गए सब्जेक्ट में गड़बड़ी कर देता है तो कभी एक दिन में दो पेपर की डेटशीट जारी कर देता है। आरयू प्रशासन ने इस बार लोकसभा इलेक्शन की काउंटिंग वाले दिन यानि 23 मई को ही सेमेस्टर एग्जाम का पेपर कर दिया। वहीं 31 मई को बीएड एग्जाम वाले दिन ही एमएड एग्जाम भी रख दिया है। इससे उन स्टूडेंट्स को परेशानियों का सामना करना होगा, जिन्होंने बीएड के लिए भी अप्लाई किया है।

पहले भी की गलती

यह पहला मामला नहीं है, जब आरयू प्रशासन ने इस तरह की गलती की है। इससे पहले भी इस तरह का शेड्यूल जारी कर आरयू प्रशासन ने बाद में उसे चेंज किया था। आरयू प्रशासन की गलती के कारण ही थर्सडे को सैकड़ों स्टूडेंट्स ने वीसी का घेराव कर प्रदर्शन किया। वहीं एक माह पहले भी दो सब्जेक्ट के एग्जाम एक ही दिन रख दिए गए थे। जिसे स्टूडेंट्स के ज्ञापन देने के बाद चेंज किया गया था। इससे साफ जाहिर होता है कि आरयू में अफसर लगातार गलती के बाद भी सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं।

एग्जाम से स्टूडेंट निराश

आरयू के इस समय सेमेस्टर एग्जाम चल रहे हैं। सेमेस्टर एग्जाम की डेटशीट जारी करते समय आरयू प्रशासन ने 23 मई को जारी होने वाले लोकसभा इलेक्शन का रिजल्ट को नजरअंदाज कर दिया। वहीं इस दिन एग्जाम के चलते स्टूडेंट काफी निराश हैं। उनका कहना है कि आरयू प्रशासन को शेड्यूल जारी करते समय इसका ध्यान देना चाहिए था।

बीएड एग्जाम, एमड एंट्रेंस एक दिन

31 मई को बीएड एग्जाम 10 बजे से एक बजे तक है। जबकि एमएड एंट्रेंस एग्जाम भी 1 बजे से चार बजे तक कर दिया है। ऐसे में सवाल उठता है कि किसी स्टूडेंट्स का बीएड एग्जाम देने के बाद एमएड एंट्रेंस के लिए सेंटर शहर के चार या पांच किलोमीटर दूर पड़ा है तो वह एक बजे छूटने के बाद दूसरे एग्जाम में कैसे एक बजे ही पहुंच जाएगा। हालांकि इसको लेकर भी स्टूडेंट्स आरयू नियंत्रक से मिलने की तैयारी कर रहे हैं।

=======================

नोट: वर्जन अभी देंगे बाद में आरयू वीसी का