- 45 मोबाइल फ ोन्स के साथ 4 शातिर मोबाइल चोर गिरफ्तार

- दून में हुई चार मोबाइल शॉप में चोरी की वारदातों का खुलासा

DEHRADUN: कॉम्पिटीशन की तैयारी के नाम पर दून में किराए का कमरा लेकर रह रहे बिहार के चार छात्रों ने महंगे शौक पूरे करने के लिए मोबाइल चोरों की गैंग बना ली। यह गैंग रात के अंधेरे में दुकानों से मोबाइल चोरी करती और दिन के उजाले में उन्हें बिहार के दुकानदारों को कोरियर से डिलीवर कर देती थी। शहर में एक के बाद एक मोबाइल की दुकानों में इस गैंग की वारदातों के बाद पुलिस जागी और मोबाइल नंबर सर्विलांस व सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिग के जरिए गैंग को पकड़ लिया। कोरियर से बिहार भेजे जा रहे चोरी के मोबाइलों की एक खेप रुकवाकर काफी मोबाइल बरामद करने में भी सफलता हासिल की है।

ताबड़तोड़ मोबाइल चोरी
एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि शहर में पिछले कुछ समय से दुकानों के ताले तोड़कर लाखों रुपये को मोबाइल फ ोन चोरी करने की वारदातें हो रही थी। एक के बाद एक चार दुकानों में चोरी हुई, एसपी रूरल और सीओ सदर को एक टीम बनाकर इन केसेज पर काम कर चोरों का पता लगाने के निर्देश दिए गए। पुलिस टीम ने सिटी व रूरल एरिया में जहां-जहां क्राइम हुए, वहां के आसपास सीसीटीवी कैमरों की फु टेज चेक करना शुरू किया और चोरी गए मोबाइलों के आईएमईआई नंबरों को सर्विलांस पर लगाया।

कोरियर से हो रही थी चोरी के मोबाइलों की डिलीवरी
इसी बीच जांच टीम को मुखबिर से पता चला कि कुछ दिन पहले ही करनपुर में एक कोरियर कंपनी के जरिए कुछ लड़कों ने काफी संख्या में नए मोबाइल कहीं बाहर भेजे हैं। डीएवी कॉलेज के पास एक कोरियर कंपनी से 17 फरवरी को कई मोबाइल एक बॉक्स में बन्द कर बिहार भेजने की सूचना पर पुलिस ने वारदात का खुलासा किया। पुलिस ने कोरियर कंपनी को चोरी के मोबाइल भेजे जाने के संदेह का नोटिस देकर डिलीवरी रुकवाई और पार्सल वापस मंगा लिया। पार्सल खोलकर चेक किया गया तो सभी मोबाइल दून में अलग-अलग दुकानों से चोरी वाले निकले। दूसरी तरफ पुलिस मोबाइल डिलीवरी करने वाले युवकों की तलाश में जुट गई।

कॉम्पिटीशन की तैयारी का नाम और चोरी काम
पुलिस को मोबाइल सर्विलांस, सीसीटीवी फुटेज और कोरियर कंपनी से हुई बरामदगी के दौरान संदिग्ध युवकों की डिटेल मिली। तलाश शुरू की तो 21 अप्रैल को सेंट ज्यूडस स्कूल के पास संदिग्ध युवकों के एक जगह होने की सूचना मिली। पुलिस ने चार युवकों को पकड़ लिया। उनके कब्जे से चोरी के कई मोबाइल बरामद हुए ,जिन्हें वे दिल्ली और वेस्टर्न यूपी के शहरों में बेचने जा रहे थे। पुलिस ने चारों युवक ों अभिजीत सिंह, रोशन कुमार, सत्यम और साहिल को गिरफ्तार कर लिया। चारों युवक मूलत: बिहार के हैं और देहरादून में करनपुर वे प्रेमनगर एरिया में कॉम्पिटीशन एग्जाम्स की तैयारी के नाम पर किराए से कमरे लेकर रह रहे थे। सभी की उम्र 19 से 20 वर्ष के बीच है।

जहां से मोबाइल चुराए, वहीं से बिल बुक भी:
चोरी के आरोप में पकड़े गए युवकों ने बताया कि वे महंगे शौक पूर करने के लिए मोबाइल चुराने लगे। दुकान में चोरी के समय वे बिल बुक भी चुरा लेते थे। उसी दुकान का बैक डेट में बिल बनाकर नए मोबाइल कम रेट पर बेच रहे थे, जिससे लोग आसानी ने उसके झांसे में आकर चोरी के मोबाइल को सही मानकर खरीद लेते थे। पुलिस ने इस गैंग से अब तक 45 मोबाइल बरामद कर लिए हैं।

रेंट पर बाइक ले चुराए 5 लाख के मोबाइल :
चोरों के शातिर अंदाज में एक किराए पर बाइक देने वाला भी फंस गया। चोर गैंग ने दून बाइक राइडर फर्म से किराए पर अपाचे बाइक लेकर चोरी की वारदातें की थी। पुलिस ने रेंट पर ली गई बाइक भी बरामद कर चोरों के कब्जे पांच लाख कीमत के 45 मोबाइल और अपाचे बाइक जब्त कर ली।

चार दुकानों में हुआ चोरी का खुलासा:

17 अप्रैल को दीप मोबाइल शॉप जौलीग्रान्ट

13 अप्रैल को हैलो केयर मोबाइल शॉप हर्रावाला

4 अप्रैल को जगदम्बा एंटरप्राइजेज प्रेमनगर

7 फरवरी को रोहित कम्यूनिकेशन्स पौंधा