ब्रिटिश सरकार की खूब हुई थी फजीहत
शीतयुद्ध के दौरान ब्रिटेन के प्रभावशाली मंत्री और सोवियत संघ के एक राजनयिक से कीलर के संबंधों की बात उजागर होने से तत्कालीन ब्रिटिश सरकार को फजीहत का सामना करना पड़ा था।
नहीं रही ब्रिटेन को हिला कर रख देने वाली क्रिस्‍टीन कीलर,जानें कीलर के कारनामे

प्रीत गिल बनीं ब्रिटेन की पहली महिला सिख सांसद

ब्रिटिश युद्ध मंत्री को देना पड़ा था स्‍तीफा
वर्ष 1963 में कीलर से अपने संबंधों को लेकर संसद में झूठ बोलने के कारण तत्कालीन कंजरवेटिव सरकार में युद्ध मंत्री जॉन प्रोफुमो को इस्तीफा देना पड़ा था। जॉन से कीलर की पहली मुलाकात 19 साल की उम्र में अपने दोस्त विलियम एस्टर के ग्रैंड बर्किंघमशायर स्थित बंगले के स्वीमिंग पूल में हुई थी।
नहीं रही ब्रिटेन को हिला कर रख देने वाली क्रिस्‍टीन कीलर,जानें कीलर के कारनामे

इंडिया के भगोड़ों के लिए 'स्वर्ग’ बना ब्रिटेन

सोवियत राजनयिक से अफेयर भी बनी सुर्खियां
जॉन के साथ ही कीलर के तत्कालीन सोवियत राजनयिक येवगेनी इवानोव के साथ अफेयर की खबरें भी अखबारों के पहले पेज की सुर्खियां बनी थीं। कीलर के बेटे सेमूर प्लेट ने बुधवार को अपनी मां की मौत की खबर मीडिया को दी।
नहीं रही ब्रिटेन को हिला कर रख देने वाली क्रिस्‍टीन कीलर,जानें कीलर के कारनामे

तनमनजीत सिंह बने ब्रिटेन के पहले पगड़ीधारी सिख सांसद

International News inextlive from World News Desk