-जगह-जगह जमा होकर बनारसवासियों ने रेडियो पर सुनी पीएम के मन की बात

VARANASI

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'मन की बात' सुनने के लिए रविवार को बनारसवासी आतुर रहे. सौ से अधिक स्थानों पर टोलियों में जमा होकर रेडियो पर कान लगाए रहे. जो सुना उसे आम से लेकर खास तक के साझा किया. बनारस के एमपी और देश के पीएम मोदीजी ने अपने खास अंदाज में खेती-किसानी से जुड़े लोगों से लगायत आमजन के मन को छुआ. जीवन में आगे बढ़ने के टिप्स भी दिए. जीवन पथ पर तनाव व दुश्वारियों से बचते हुए कैसे सफलता हासिल की जाए, व्यवस्थित दिनचर्या का जीवन में महत्व सहित अन्य अचूक मंत्र भी दिए. 'मन की बात' सुनकर आमजन की प्रतिक्रिया रही-मोदीजी ने सिखायी 'जीवन जीने की कला'.

मोदी-मोदी की गूंज

जिस वक्त पीएम रेडियो पर मन की बात कर रहे थे उस वक्त शहर के प्रमुख चौराहों व मुहल्लों में भाजपाइयों का उत्साह दिखा. उन स्थानों पर मोदी-मोदी की गूंज रही. मोदी के 'मन की बात' के क्8 वें प्रसारण में नगर व गांव के प्रमुख स्थानों पर जनता की जुटान हुई. रेडियो पर 'मन की बात' सुनकर जनता ने मोदी के जयकारे भी लगाए. खेल, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, स्वच्छता सहित अन्य ज्वलंत मुद्दे मन की बात के केंद्र में रहे.

जगह-जगह जुटे पार्टी मेम्बर्स

मोदी के संसदीय क्षेत्र में विभिन्न जगहों पर पार्टीजनों एवं क्षेत्रवासियों ने रेडियो लगाकर आल इंडिया रेडियो की ओर से प्रसारित मन की बात को सुना. वार्ड नंबर भ्क् के दारानगर त्रिमुहानी पर पूर्व अध्यक्ष सेंट्रल बार एसोसिएशन एवं वरिष्ठ बीजेपी प्रांतीय परिषद सदस्य डॉ. राम अवतार पांडेय व कार्यसमिति सदस्य काशी क्षेत्र डॉ. दयाशंकर मिश्र दयालू के सानिध्य में वार्ड अध्यक्ष गौरव जायसवाल, टिंकू अरोड़ा, कमलेश शुक्ला, बाबू यादव सहित अन्य ने सुना. नमामि गंगे काशी क्षेत्र द्वारा गंगा की बीच धारा में नाव पर मेंबर्स ने मन की बात सुनी. काशी क्षेत्र के संयोजक अशोक चौरसिया ने कहा कि मन की बात प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गयी एक सराहनीय पहल है. वरिष्ठ सदस्य डॉ. उत्तम ओझा ने कहा कि पीएम के मन की बात को लिपिबद्ध कर पुस्तक प्रकाशित किया जाएगा. कार्यक्रम में अंकिता खत्री, कविता मालवीय, नम्रता चौरसिया, मनीष खत्री, संजीव चौरसिया, डॉ. अष्टभुजा मिश्रा, राजेश शुक्ल सहित अन्य शामिल रहे. रामकुंड लक्सा में पार्षद ओमप्रकाश चौरसिया, राजकुमार पटेल, जितेंद्र सिंह, अनिल चौरसिया सहित अन्य मन की बात सुना.