modis minister who is very down to earth
modi cabinet, Virendra Kumar, Smriti Irani, Narendra Modi, narendra modi cabinet, modis minister
मोदी के जमीन से जुड़े मंत्री : कोई लगाता था पोछा तो कोई पंचर
तीन साल में तीसरी बार मोदी कैबिनेट में फेरबदल हो रहा है। इसमें दस नए मंत्री शामिल किए जा सकते हैं। 2014 में प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के बाद मोदी कैबिनेट में ऐसे चहरे भी शामिल हुए जो जमीन से जुड़े हैं। कोई लगाता था पोछा तो कोई पंचर बना कर मंत्रालय की सीढि़यों तक पहुंचा है।

1- मोदी सरकार में केंद्रीय राज्यमंत्री बने डॉ. वीरेंद्र कुमार का बचपन संघर्ष से गुजरा है। पांचवीं कक्षा में पढ़ने के दौरान वह मध्यप्रदेश के सागर में गौरमूर्ति चौराहे पर अपने पिता की साइकिल की दुकान पर बैठते थे। कॉलेज की पढ़ाई तक लगभग 10 साल तक उन्होंने पंचर बनाने से लेकर साइकिल रिपेयरिंग भी की। अभी भी सांसद अपने ग्रामीण क्षेत्रों के दौरे में जब भी साइकिल सुधारते हुए किसी नवयुवक को देखते है तो उसको पंचर और साइकिल रिपेयरिंग के टिप्स देने लगते हैं। डॉ. वीरेन्‍द्र कुमार छठी बार सांसद बने हैं।
https://www.jagranimages.com/inext/virendra-040917.jpg
2- भाजपा सरकार में स्‍मृति इरानी को पहले एचआरडी मिनिस्‍टर बनाया गया था। इनदिनो वो कपड़ा मंत्रालय संभाल रही हैं।स्‍मृति इरानी ने एक इंटरव्‍यू के दौरान कहा था कि वो जब 19 साल की थीं तब नौकरी ढूंढ़ने के लिए क्‍लासीफाइड एड का सहारा लिया था। जब वो वहां पहुंची तो मैनेजर ने कहा कि सारी नौकरिया खत्‍म हो गई हैं सिर्फ झाडू पोछा करने और ट्रे साफ करने की नौकरी बची है। इस पर स्‍मृति इरानी ने 1800 की सैलरी के साथ वहां पर नौकरी की जहां उन्‍हें झाडू पोछा के साथ बर्तन भी धुलने पड़े। 
https://www.jagranimages.com/inext/smrati-040917.jpg
2- नरेन्द्र मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 को वड़नगर में दामोदार दास मूलचंद मोदी और हीराबेन के यहां हुआ। वड़नगर के भगवताचार्य नारायणाचार्य स्कूल में पढ़ते थे। नरेन्द्र मोदी स्कूल में औसत छात्र थे। नरेन्द्र मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 को वड़नगर में दामोदार दास मूलचंद मोदी और हीराबेन के यहां हुआ। वड़नगर के भगवताचार्य नारायणाचार्य स्कूल में पढ़ते थे। नरेन्द्र मोदी स्कूल में औसत छात्र थे। नरेन्द्र मोदी ने 26 मई 2014 को भारत के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली और वे भारत के प्रथम प्रधानमंत्री हैं जिनका जन्म आजादी के बाद हुआ है।
https://www.jagranimages.com/inext/modi-040917.jpg
4- मोदी कैबिनेट में डिफेंस मिनिस्टर बनाई गईं निर्मला सीतारमण जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी से पढ़ी हैं। दिल्ली में ही सीतारमण की मुलाकात आंध्र प्रदेश के परकल प्रभाकर से हुई। दोनों ने 1986 में शादी कर ली। इसके बाद दोनों ब्रिटेन चले गए। प्रभाकर जब लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से पीएचडी कर रहे थे तब निर्मला हैबिटेट कंपनी में सेल्स गर्ल की थीं लेकिन जल्दी ही वे नौकरी छोड़कर प्राइसवॉटरहाउस कूपर्स के साथ सीनियर मैनेजर के तौर पर जुड़ गईं। 1991 में सीतारमण पति के साथ भारत लौट आईं। निर्मला के पिता रेलवे में थे।http://i

1- मोदी सरकार में केंद्रीय राज्यमंत्री बने डॉ. वीरेंद्र कुमार का बचपन संघर्ष से गुजरा है। पांचवीं कक्षा में पढ़ने के दौरान वह मध्यप्रदेश के सागर में गौरमूर्ति चौराहे पर अपने पिता की साइकिल की दुकान पर बैठते थे। कॉलेज की पढ़ाई तक लगभग 10 साल तक उन्होंने पंचर बनाने से लेकर साइकिल रिपेयरिंग भी की। अभी भी सांसद अपने ग्रामीण क्षेत्रों के दौरे में जब भी साइकिल सुधारते हुए किसी नवयुवक को देखते है तो उसको पंचर और साइकिल रिपेयरिंग के टिप्स देने लगते हैं। डॉ. वीरेन्‍द्र कुमार छठी बार सांसद बने हैं।

मोदी के जमीन से जुड़े मंत्री : कोई लगाता था पोछा तो कोई पंचर

2- भाजपा सरकार में स्‍मृति इरानी को पहले एचआरडी मिनिस्‍टर बनाया गया था। इनदिनो वो कपड़ा मंत्रालय संभाल रही हैं।स्‍मृति इरानी ने एक इंटरव्‍यू के दौरान कहा था कि वो जब 19 साल की थीं तब नौकरी ढूंढ़ने के लिए क्‍लासीफाइड एड का सहारा लिया था। जब वो वहां पहुंची तो मैनेजर ने कहा कि सारी नौकरिया खत्‍म हो गई हैं सिर्फ झाडू पोछा करने और ट्रे साफ करने की नौकरी बची है। इस पर स्‍मृति इरानी ने 1800 की सैलरी के साथ वहां पर नौकरी की जहां उन्‍हें झाडू पोछा के साथ बर्तन भी धुलने पड़े। 

मोदी के जमीन से जुड़े मंत्री : कोई लगाता था पोछा तो कोई पंचर

2- नरेन्द्र मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 को वड़नगर में दामोदार दास मूलचंद मोदी और हीराबेन के यहां हुआ। वड़नगर के भगवताचार्य नारायणाचार्य स्कूल में पढ़ते थे। नरेन्द्र मोदी स्कूल में औसत छात्र थे। नरेन्द्र मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 को वड़नगर में दामोदार दास मूलचंद मोदी और हीराबेन के यहां हुआ। वड़नगर के भगवताचार्य नारायणाचार्य स्कूल में पढ़ते थे। नरेन्द्र मोदी स्कूल में औसत छात्र थे। नरेन्द्र मोदी ने 26 मई 2014 को भारत के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली और वे भारत के प्रथम प्रधानमंत्री हैं जिनका जन्म आजादी के बाद हुआ है।

मोदी के जमीन से जुड़े मंत्री : कोई लगाता था पोछा तो कोई पंचर

4- मोदी कैबिनेट में डिफेंस मिनिस्टर बनाई गईं निर्मला सीतारमण जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी से पढ़ी हैं। दिल्ली में ही सीतारमण की मुलाकात आंध्र प्रदेश के परकल प्रभाकर से हुई। दोनों ने 1986 में शादी कर ली। इसके बाद दोनों ब्रिटेन चले गए। प्रभाकर जब लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से पीएचडी कर रहे थे तब निर्मला हैबिटेट कंपनी में सेल्स गर्ल की थीं लेकिन जल्दी ही वे नौकरी छोड़कर प्राइसवॉटरहाउस कूपर्स के साथ सीनियर मैनेजर के तौर पर जुड़ गईं। 1991 में सीतारमण पति के साथ भारत लौट आईं। निर्मला के पिता रेलवे में थे। 

मोदी के जमीन से जुड़े मंत्री : कोई लगाता था पोछा तो कोई पंचर

National News inextlive from India News Desk


National News inextlive from India News Desk