- दबंगों ने हाथ-पैर बांधकर खेत में फेंका, पति से मारपीट-लूटपाट

एटा: जसरथपुर क्षेत्र के गांव नदराला में अनुसूचित जाति (एससी) आयोग के अध्यक्ष व आगरा के सांसद रामशंकर कठेरिया की भांजी के साथ दबंगों ने दुष्कर्म का प्रयास किया. घर में घुसकर लूटपाट भी की. आरोपी उन्हें साथ ले गए और हाथ-पैर बांधकर खेत में डाल गए. घटना के दूसरे दिन पांच आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है.

गहने लूटने का भी आरोप

सोमवार रात कठेरिया की भांजी के पति अपने घर पर थे. तभी गांव के ही अब्दुल रफ, कामरान, हबीबुर्रहमान, जाहिद व एक अन्य व्यक्ति पहुंचे और उनसे मारपीट शुरू कर दी. गहने लूटने के साथ ही उनकी पत्नी को जबरन साथ ले गए और बाजरे के खेत में हाथ-पैर बांधकर डाल दिया. मुंह में कपड़ा ठुंसा होने की वजह से वह बेहोश हो गईं. आरोप है कि उनके साथ दुष्कर्म का प्रयास भी किया गया. उनके पति ने 100 नंबर पर सूचना दी.

खेत में बेहोश पड़ी मिली

इसके बाद ग्रामीणों को तलाश के दौरान महिला खेत में बेहोश पड़ी मिलीं. कुछ देर बाद पुलिस पहुंच गई. होश में आने पर उन्होंने पूरा घटनाक्रम पुलिस को बताया. पुलिस ने आरोपियों के यहां दबिश दी, लेकिन कोई हाथ नहीं लगा. मामले की रिपोर्ट मंगलवार को दर्ज की गई. पता चला है कि गांव के प्रधान पक्ष से कठेरिया के भांजी दामाद का जमीन को लेकर विवाद चल रहा है. चार दिन पहले प्रशासन ने प्रधान पक्ष के लोगों का उनके खेत से कब्जा हटवाया था. तभी प्रधान के गुर्गो ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी. सोमवार रात उनके घर पर हमला बोल दिया.

अधिकारियों में मची खलबली

मंगलवार सुबह दर्जनों ग्रामीण ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से अलीगंज में आयोजित समाधान दिवस पहुंचे, जहां पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने का भरोसा दिया. प्रशासन को जब यह पता चला कि मामला एससी आयोग के अध्यक्ष की भांजी का है, तो खलबली मच गई. जिलाधिकारी अमित किशोर और एसएसपी अखिलेश कुमार चौरसिया अलीगंज में ही थे. उन्होंने मामले में निष्पक्ष जांच और कार्रवाई के निर्देश दिए. एडीशनल एसपी संजय कुमार ने बताया कि एफआइआर दर्ज कर आरोपियों की तलाश की जा रही है. शीघ्र ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा.