चेयरमैन के घर पहुंचे पीडि़त, घेराव

आफिस, मोबाइल बंद करके हुए फरार

<चेयरमैन के घर पहुंचे पीडि़त, घेराव

आफिस, मोबाइल बंद करके हुए फरार

GORAKHPUR: GORAKHPUR: देश के विभिन्न प्रदेश के हजारों लोगों का सौ करोड़ से ज्यादा रकम लेकर संस्था फरार हो गई. गुरुवार को ठगी के शिकार युवकों ने कंपनी के चेयरमैन का घर घेर लिया. चेयरमैन के तीन मंजिला मकान में ताला बंद देखकर युवक निराश हो गए. डीएम और एसएसपी को पत्र देकर पीडि़त युवकों ने कार्रवाई की गुहार लगाई. एसएसपी ने मामले की जांच का निर्देश सीओ को दिया.

घेराव करने पर सामने आया मामला

गोरखपुर निवासी कुछ लोगों ने एक संस्था बनाई. लखनऊ में हेड ऑफिस बनाकर संस्था के लोगों ने विदेशों में भी नेटवर्क फैलाया. शाहपुर एरिया के राप्ती नगर संस्था का ऑफिस खोला गया. करीब सौ करोड़ रुपए जमा कराकर कंपनी के अधिकारी और कर्मचारी फरार हो गए. कंपनी के लखनऊ के ऑफिस पर ताला बंद होने से पीडि़त गोरखपुर पहुंचे. किसी तरह से चेयरमैन के घर का पता लगाते हुए पीडि़त युवक गोरखपुर पहुंचे. राप्ती नगर मोहल्ले में पहुंचकर संस्था के अध्यक्ष का आवास घेर लिया.

सैकड़ों युवकों से ठगे करोड़ों रुपए

सोसायटी बनाकर संस्था के लोग हर व्यक्ति से कम से कम सौ रुपए जमा कराते थे. सौ रुपए से लेकर लाखों रुपए तक का इनवेस्टमेंट करने वालों को एक साल से क्0 साल के भीतर रुपए लौटाने की योजना बताते थे. छह साल पूरा होने पर दो गुना पैसा देने का दावा कर कंपनी कर्मचारियों ने बिहार, हरियाणा, पंजाब और यूपी के कई जिलों के युवकों से पैसे जमा कराए. चार माह से किसी का भुगतान न होने पर लोगों ने कंपनी के अधिकारियों-कर्मचारियों की तलाश शुरू की. गुरुवार को कंपनी के आफिस पर पहुंचे लोगों ने हंगामा किया. सूचना पाकर पुलिस पहुंची तब लोगों को मामले की जानकारी हुई.

करोड़ों रुपए की ठगी का मामला सामने आया है. इसकी जांच पड़ताल कराई जाएगी. जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

अभय कुमार मिश्र, सीओ कैंट