JAMSHEDPUR: बुधवार की शाम को रुक-रुक कर बारिश हुई. करीब दो घंटे तक हुई बारिश की वजह से शहर की रफ्तार जैसे थम गई. बाजारों में खरीदारी पर ब्रेक लगा. दीपावली की खरीदारी के लिए बाजारों में उमड़ी भारी भीड़ जहां-तहां बारिश के बचने की जुगत में लगी रही. बारिश के कारण बाजारों में कीचड़ तो हुई, लेकिन बारिश थमने के बाद लोगों ने बिना इसकी परवाह किए खरीदारी की. इधर मौसम विभाग ने मात्र क्.ब्ब् मिमी ही बारिश रिकार्ड की. अधिकतम तापमान फ्ख्.ख् डिग्री सेल्सियस तो न्यूनतम तापमान ख्क् डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया.

दूसरी ओर, मौसम पूर्वानुमान पदाधिकारी ने बताया कि इस समय मध्य पश्चिम बंगाल की खाड़ी में समुद्र तल से भ्.8 किमी ऊपर तक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है. इसके साथ ही पूर्वी बिहार से उत्तरी ओडिशा तक दक्षिणी झारखंड होते हुए एक ट्रफ लाइन गुजर रही है. इसके कारण गुरुवार को भी आसमान में बादल छाएंगे और मध्यम से तेज बारिश की भी पूरी आशंका है. इसके कारण दीपावली व काली पूजा खलल पड़ सकता है.

छह घरों में घुसा पानी

बर्मामाइंस के टाटानगर फाउंड्री में बुधवार को हुई हल्की बारिश में भी बाढ़ जैसे हालात बन गए. यहां जल जमाव की समस्या आम हो गई है. बुधवार को रुक-रुक कर करीब दो घंटे हुई बारिश की वजह से छह घरों में पानी घुस गया. स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के मुताबिक जुस्को की ओर से बनाई जा रही नाली का निर्माण पिछले दो सालों से रुका हुआ है. इस वजह से यह परेशानी हो रही है.