-परिवहन निगम के प्रयागराज रीजन में मुसाफिरों के लिए हर डिपो में बनाई गई योजना

किस डिपो में कितनी बसें

सिविल लाइंस डिपो : 109

मिर्जापुर डिपो : 75

प्रतापगढ़ डिपो : 83

जीरो रोड डिपो : 81

लीडर रोड डिपो : 95

प्रयाग डिपो : 110

लालगंज डिपो : 36

बादशाहपुर डिपो : 21

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: आने वाले दिनों में परिवहन निगम प्रबंधन आपके सफर को आसान करने जा रहा है। निगम की बसों में मुसाफिरों को स्वास्थ संबंधी छोटी-मोटी जरूरतों का इंतजाम होगा। वहीं बसों के ड्राइवरों और कंडक्टरों की मनमानी को खत्म करके निगरानी भी की जाएगी। इसके लिए प्रयागराज रीजन के हर डिपो की बस में फ‌र्स्ट एड बॉक्स के साथ सीसीटीवी कैमरा लगाने की योजना भी बनाई गई है।

27 एसी जनरथ बसें

रीजन के सिविल लाइंस डिपो से सर्वाधिक दस एसी जनरथ बसों का संचालन होता है। प्रयाग डिपो व लीडर रोड डिपो से क्रमश: चार-चार एसी बसें और लीडर रोड से तीन, मिर्जापुर व प्रयाग डिपो से दो-दो बसें चलती हैं। जबकि प्रतापगढ़ व लालगंज डिपो से एक-एक एसी बसें चलती हैं।

610 बसों का रोजाना संचालन

प्रयागराज रीजन के आठ डिपो से प्रतिदिन प्रदेश के विभिन्न जिलों में स्थित डिपो में कुल 610 बसों का संचालन किया जाता है।

20 दिन का टारगेट

निगम प्रबंधन ने मुसाफिरों को फ‌र्स्ट एड बॉक्स और सीसीटीवी कैमरा लगाने के लिए बीस दिनों का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके लिए सबसे पहले सर्वाधिक बसों वाले डिपो में सुविधाएं दी जाएंगी।

रजिस्टर में होगी एंट्री

निगम के हर डिपो की बसों में एक स्पेशल रजिस्टर रखा जाएगा। इसमें यह डाटा दर्ज होगा कि फ‌र्स्ट एड बॉक्स के जरिए कितने मुसाफिरों का इलाज किया गया। मुसाफिर का नाम, उसकी समस्या का विवरण दर्ज होगा। इसकी साप्ताहिक समीक्षा की जाएगी और पूरी रिपोर्ट लखनऊ मुख्यालय भेजी जाएगी।

वर्जन

रीजन के प्रत्येक डिपो में बसों में फ‌र्स्ट एड बॉक्स की सुविधा सबसे पहले दी जाएगी। इसके लिए सभी एआरएम को निर्देश जारी कर दिया गया है। बसों में कैमरा लगाने का प्रस्ताव मुख्यालय को भेजा गया है। उसकी स्वीकृति मिलने का इंतजार है। प्रयास किया जा रहा है कि जून के पहले सप्ताह तक मुसाफिरों को सुरक्षा का पूरा बंदोबस्त किया जा सके।

-टीकेएस बिसेन, रीजनल मैनेजर प्रयागराज रीजन परिवहन निगम