- बांसगांव चौराहे पर टेंपो से उतरी महिला अचानक रोड पर गिरकर तड़पने लगी

- पब्लिक ने पहुंचाया अस्पताल लेकिन नहीं बची जान, 2 साल की मासूम

- डॉक्टर ने कहा, जहर से हुई मौत, जांच में जुटी पुलिस

GORAKHPIR: बांसगांव चौराहे पर शनिवार शाम करीब 4 बजे एक टेंपो रुका तो उसमें से 2 साल के मासूम को गोद लिए महिला उतरी. ऑटो वाले को भाड़ा दे रही थी कि अचानक उसकी हालत खराब हो गई. वह रोड पर गिर गई और मासूम गोद से दूर जा गिरा. तुरंत राहगीर जुटे तो देखा कि महिला के मुंह से झाग निकल रहा था. सीएचसी पर ले गए लेकिन डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया. डॉक्टर के अनुसार मौत जहर खाने से हुई है. अब पुलिस जांच में जुटी है कि महिला ने जहर खाया कि उसे ि1खलाया गया.

..लेकिन बचा न पाए

बांसगांव चौराहे पर तड़प रही महिला की मदद के लिए तमाम लोग जमा हो गए. उसे सीएचसी भी पहुंचाया लेकिन बचा न पाए. डॉक्टर ने महिला को मृत घोषित कर दिया. जहर से मौत होने के कारण डॉक्टर ने पुलिस को इसकी सूचना दी. मौके पर पहुंची बांसगांव पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया और महिला के पास से मिले मोबाइल के एक नंबर को डायल किया. जिसके बाद महिला की पहचान क्षेत्र के चांदपार निवासी हैदर की पत्‍‌नी शबनम के रूप में हुई.

अस्पताल पहुंचे पिता

शबनम की मौत की जानकारी उसके पिता तिघरा निवासी मुसरीम को मिली तो वे भागे-भागे अस्पताल पहुंचे. उन्होंने बेटी के ससुरालियों पर उसे जहर देकर मारने का आरोप लगाया. उन्होंने पुलिस को बताया कि वर्ष 2005 में शबनम की शादी हुई थी. उसके बाद से ही ससुराली उसका उत्पीड़न करते थे. शबनम के तीन बच्चे साहिल (7), सुहेल (5) और सोफिया (2) हैं.

वर्जन

किसी जहरीले पदार्थ के खाने से महिला की जान गई है. महिला ने खुद जहर खाया या उसे किसी ने जहर दिया, इसकी जांच पुलिस करेगी. इसलिए पुलिस को सूचना दे दी गई थी.

डॉ. एएन प्रसाद, प्रभारी, सीएचसी, बांसगांव