दो कहानी बनाती हैं एक फिल्‍म
यह फिल्‍म बनारस की पृष्‍ठभूमि पर बेस्‍ड है। जिसमें दो अलग-अलग कहानियां हैं जो अंत में एक जगह आकर मिल जाती हैं। पहली कहानी शुरु होती है देवी (रिचा चढ्ढा) से, जो अपने साथी मित्र पीयूष के साथ एक होटल में साथ में दिखाई पड़ती है। हालांकि उनके बीच कुछ गलत नहीं होता लेकिन पुलिस छापा मारकर उन्‍हें पकड़ लेती है और उनके ऊपर गलत हरकतों में शामिल होने का इल्‍जाम लगती है। यही नहीं पुलिस देवी पर दबाव डालकर उसे जुर्म कबूल करते हुए वीडियो भी बना लेती है। वहीं दूसरी कहानी दीपक (विक्‍की कौशल), जो गंगा के घाट पर मृत शरीर को जलाने और क्रिया कर्म का काम करता है। अछूत जाति का दीपक इस काम से छुटकारा पाना चाहता है। तभी दीपक की मुलाकात शालू (श्‍वेता त्रिपाठी) से होती है और वह दोनों प्‍यार करने लगते हैं। लेकिन अलग-अलग जाति उनके प्‍यार में रोड़ा बन जाती है।



फिल्‍म को मिल चुका है अवार्ड

आपको बताते चलें कि, फ़्रांस में 68वें कांस इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल आयोजित किया गया था। यह आयोजन 13 मई से 24 मई के बीच किया गया। जिसमें फिल्‍म 'मसान' ने काफी धूम मचाई। इंडियन फिल्म निर्माता नीरज घेवन को फिल्म 'मसान' के लिए इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फिल्म क्रिटिक्स (फिप्रेसी) अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। ऐसे में जब कांस में फिल्‍म को इतनी सराहना मिली, तो यह दर्शकों को जरूर लुभाएगी। यह फिल्‍म समाज का असली चेहरा सबके सामने रखती है, एक छोटे से कस्‍बे में रह रहे 4 लोगों के इर्द-गिर्द घूमती यह कहानी लोगों को वह आईना दिखाती है जिसे वह देखना नहीं चाहते, या दूर भागने की कोशिश करते हैं।

Hindi News from Bollywood News Desk

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk