कानपुर। भारत के दाएं हाथ के बल्लेबाज एमएस धोनी का जन्म 7 जुलाई 1981 को रांची में हुआ था। बतौर विकेटकीपर भारतीय टीम में इंट्री करने वाले धोनी बहुत जल्द टीम इंडिया के कप्तान बन गए। अपनी कप्तानी में धोनी ने कई कारनामे किए। 2007 टी-20 वर्ल्डकप में जहां उन्होंने भारत को चैंपियन बनाया। वहीं 2011 में टीम इंडिया को दूसरी बार वर्ल्डकप जितवाया। बता दें माही भारत के लिए चार वर्ल्डकप खेल चुके हैं। क्रिकइन्फो पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक, धोनी ने पहला विश्वकप 2007 में खेला था। खैर माही का करियर अब ढलान पर आ चुका है, मौजूदा वर्ल्डकप में उनकी धीमी बल्लेबाजी को लेकर काफी सवाल खड़े हो गए।

2004 में रखा था इंटरनेशनल क्रिेकट में कदम
एमएस धोनी ने अपने इंटरनेशनल करियर की शुरुआत 2004 में की थी। माही ने पहला वनडे बांग्लादेश के खिलाफ चिटगांव में खेला था। हालांकि धोनी अपने पहले मैच में कुछ खास कर नहीं पाए और जीरो रन पर रन आउट हो गए। मगर माही को वनडे क्रिकेट की सबसे धुआंधार पारी खेलने में ज्यादा वक्त नहीं लगा डेब्यू के बाद पांचवें मैच में ही पाकिस्तान के खिलाफ माही ने 148 रन की तूफानी पारी खेल दी। जिसके बाद कोई उन्हें टीम से नहीं निकाल पाया। बता दें धोनी भारत की तरफ से वनडे खेलने वाले 157वें क्रिकेटर थे।
धोनी के बाद डेब्यू करने वाले कितने खिलाड़ी ले चुके संन्यास
धोनी के बाद 70 खिलाड़ियों ने किया वनडे डेब्यू
महेंद्र सिंह धोनी के बाद भारतीय वनडे टीम में 70 खिलाड़ी डेब्यू कर चुके, इसमें विराट कोहली और रोहित शर्मा जैसे खिलाड़ी स्टार बल्लेबाज बन गए तो कुछ गुमनामी के अंधेरे में खो गए। भारत के लिए आखिरी डेब्यूटेंट खिलाड़ी शुभमन गिल हैं जिन्होंने जनवरी 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला वनडे खेला था।

धोनी के बाद डेब्यू करने वाले आठ खिलाड़ी ले चुके संन्यास

एमएस धोनी के बाद वनडे डेब्यू करने वाले क्रिकेटरों में आठ ऐसे हैं जो इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं। इसमें जोगिंदर शर्मा, आरपी सिंह, मुनाफ पटेल, विक्रम राज वीर सिंह, प्रवीण कुमार, मनप्रीत सिंह गोनी, एस बद्रीनाथ और अंबाती रायडू का नाम शामिल है।
धोनी के बाद डेब्यू करने वाले कितने खिलाड़ी ले चुके संन्यास
अब माही के संन्यास की अटकलें
टेस्ट क्रिकेट से पहले ही संन्यास ले चुके एमएस धोनी की वनडे और टी-20 से अलविदा लेने की काफी चर्चाएं हैं। धोनी की मौजूदा वर्ल्डकप परफाॅर्मेंस को देखकर कहा जा सकता है कि माही वर्ल्डकप खत्म होते ही संन्यास का एलान कर देंगे। बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर कुछ दिनों पहले पीटीआई को बताया था कि, 'आप एमएस धोनी को ठीक से नहीं जानते लेकिन यह कम ही संभावना है कि वह इस विश्वकप के बाद भारत के लिए खेलना जारी रखें। जब से उन्होंने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में कप्तानी से अचानक संन्यास लिया तब से उनको लेकर कुछ भी कयास लगाना मुश्किल हो गया है।' 

एमएस धोनी बर्थडे : धोनी ने जब पहला वर्ल्डकप तब कोहली अंडर-19 खेला करते थे


एमएस धोनी बर्थडे : बतौर गेंदबाज धोनी के नाम है एक विकेट, इस बल्लेबाज का किया था शिकार

इसलिए धोनी के संन्यास की संभावना बढ़ जाती है

बता दें कि इस वक्त जो चयन समिति है उसका कार्यकाल अक्टूबर में होने वाली एजीएम तक समाप्त हो जायेगा, इसलिए धोनी के संन्यास की संभावना और भी बढ़ जाती है। उसके बाद ऑस्ट्रेलिया में अगले साल खेले जाने वाले टी 20 विश्व कप की तैयारियां भी शुरू हो जाएंगी, जिसको लेकर नई चयन समिति के पास ज्यादा समय नहीं बचेगा और धोनी अगले टी 20 विश्व कप में खेलें इसकी संभावना तो लगभग कम ही दिखती है।

 

Cricket News inextlive from Cricket News Desk