दुनिया की छठी बड़ी इकोनॉमी
मुकेश अंबानी ने कहा कि 2004 में उन्होंने भारत के लगभग 500 अरब डॉलर की इकोनॉमी बनने और 20 साल में इसके 5 लाख करोड़ डॉलर की इकोनॉमी बनने का अनुमान जाहिर किया था। उन्होंने कहा कि आज वह अनुमान सही होता दिख रहा है। यह आंकड़ा 2024 तक हासिल हो जाएगा। भारत फिलहाल दुनिया की छठी बड़ी इकोनॉमी है और इसका साइज लगभग 2।5 लाख करोड़ डॉलर है।

तीसरी बड़ी इकोनॉमी बनने में सक्षम
उन्होंने कहा कि क्या हम अगले 10 साल में इसे तिगुना कर सकते हैं और दुनिया की तीसरी बड़ी इकोनॉमी बन सकते हैं? हां, हम कर सकते हैं। क्या हम 2030 तक 10 लाख करोड़ डॉलर का आंकड़ा पार कर सकते हैं और भारत व चीन और भारत व अमेरिका के बीच के अंतर को कम कर सकते हैं? हां, हम कर सकते हैं।

ज्यादा अमीर बन सकता है भारत
अंबानी ने उम्मीद जताई कि भारत इसी सदी में अमेरिका और चीन से ज्यादा संपन्न बन सकता है। उन्होंने कहा कि मेरे मानना है कि आने वाले तीन दशक भारत के लिए निर्णायक दशक साबित होंगे। 21वीं सदी के मध्य तक भारत, चीन से ज्यादा तेजी से ग्रोथ करेगा, साथ ही दुनिया में सबसे ज्यादा आकर्षक होगा। अंबानी के मुताबिक भारत में विकास का बेहतर और अलग मॉडल सामने आएगा, जिससे समान और समावेशी विकास को बढ़ावा मिलेगा।

Business News inextlive from Business News Desk