आई अपडेट
सुरक्षा कारणों का हवाला दिया
lucknow@inext.co.in
LUCKNOW
राज्य संपत्ति अधिकारी को भेजे अपने पत्र में मुलायम सिंह ने राजधानी में कोई निजी आवास न होने और सुरक्षा कारणों का हवाला दिया है। ध्यान रहे कि इसी तरह का पत्र मुलायम के पुत्र एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी राज्य संपत्ति अधिकारी को भेज चुके हैं। राज्य संपत्ति ने अखिलेश का पत्र लीगल सेल के हवाले कर दिया था ताकि उस पर नियमों के मुताबिक निर्णय लिया जा सके। अब मुलायम का पत्र मिलने के बाद उसे भी लीगल सेल के हवाले किया जाएगा।

योगी से भी मिले थे मुलायम
ध्यान रहे कि सरकारी बंगला खाली करने का सुप्रीम कोर्ट का आदेश आने के बाद मुलायम सिंह यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इस बाबत मुलाकात भी की थी। इस दौरान उन्होंने फॉर्मूला भी सुझाया था कि उनका और अखिलेश का बंगला विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी और विधान परिषद में नेता विरोधी दल अहमद हसन के नाम आवंटित कर दिया जाए। हालांकि इसके अगले दिन ही राज्य संपत्ति विभाग ने सभी छह पूर्व मुख्यमंत्रियों को बंगला खाली करने का नोटिस भेज दिया था। इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह ने अपना बंगला खाली करने की कवायद शुरू कर दी तो कल्याण सिंह ने अपने बंगले का सामान अपने पौत्र संदीप सिंह के आवास पर भेजना शुरू कर दिया।

विधायकों को धमकी मामला : आसान नहीं अपराधी तक पहुंचना वाट्सएप ने खड़े किये हाथ, जबरदस्त है ये काॅल वाला नंबर

तमिलनाडु में पुलिस फायरिंग में 11 लोगों की मौत से बढ़ा तनाव, डीएमके ने किया 25 मई को राज्य में बंद का एेलान

National News inextlive from India News Desk