प्रभारी मंत्री के निर्देश के बाद दोनों विभागों के बीच मशीनरी और मैन पॉवर का लेखा-जोखा होगा साझा

शहर क्षेत्र में सप्ताहवार साफ-सफाई और मेंटीनेंस का बनाकर देना होगा रूट मैप

Meerut. नगर निगम और एमडीए मिलकर शहर को साफ करेंगे. प्रदेश स्तर पर कूड़ा निस्तारण में मेरठ की किरकिरी होने के बाद कमिश्नर अनीता सी मेश्राम सख्त हैं. आगामी 2 माह तक मेरठ में विशेष कूड़ा निस्तारण अभियान चलाकर मेरठ और मेरठ की छवि को साफ किया जाएगा. नगर निगम और एमडीए को कमिश्नर ने शहर की सफाई की विस्तृत कार्ययोजना देने के आदेश ि1दए हैं.

संसाधन किए तलब

कमिश्नर ने नगर निगम और एमडीए ने कूड़ा निस्तारण अभियान से पूर्व संसाधन, उपकरण, वाहन और मैनपॉवर का ब्योरा तलब किया है. कमिश्नर ने दोनों विभागों को निर्देश दिए हैं कि वे दो दिनों में अपने-अपने सीमा क्षेत्र का विस्तृत ब्योरा दें. सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट एंड हैंडलिंग रूल्स 2016 के पालन के निर्देश देते हुए कमिश्नर ने एमडीए और नगर निगम को कूड़ा निस्तारण के प्रति पब्लिक को अवेयर करने के निर्देश दिए हैं. समाजसेवी संस्थाओं, एनजीओ की भागेदारी से स्वच्छ भारत अभियान (शहरी) को संचालित करने के निर्देश दिए. गावड़ी स्थित डंपिंग ग्राउंड को लेकर आ रही अटकलों पर कमिश्नर ने सरकार में कड़ी पैरवी के निर्देश नगरायुक्त मनोज कुमार चौहान को दिए.

सड़क पर नहीं होगा कूड़ा

मेरठ विकास प्राधिकरण को कमिश्नर ने निर्देश दिए कि अब कॉलोनियों का कूड़ा सड़क पर न बिखरने पाए. सभी एप्रूव्ड कॉलोनियों के विकासकर्ता और रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन को कॉलोनी परिसर में ही डलावघर (मिनी डंपिंग ग्राउंड) के निर्माण के आदेश कमिश्नर ने दिए हैं. कॉलोनी में 10 टन प्रतिदिन कूड़े पर 1000 वर्ग मीटर का एक प्लाट मिनी डंपिंग ग्राउंड के लिए सुनिश्चत करना होगा. इस संबंध में प्राधिकरण सभागार में एक कार्यशाला का आयोजन 19 सितंबर को एमडीए सभागार में दोपहर 2 बजे हो रहा है. एमडीए सचिव राजकुमार ने बताया कि कार्यशाला में कूड़ा निस्तारण के संबंध में सभी विकासकर्ताओं और रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के साथ एमडीए के अधिकारी कूडा निस्तारण योजना को साझा करेंगे.

आगामी 2 माह तक मेरठ में कूड़ा निस्तारण पर एक्सरसाइज की जाएगी. नगर निगम और एमडीए को इस बाबत कड़े निर्देश दे दिए गए हैं. 1 सप्ताह में कूड़ा निस्तारण की विस्तृत और साझा कार्ययोजना देने के निर्देश दोनों विभागों को दिए गए हैं.

अनीता सी मेश्राम, कमिश्नर, मेरठ