वेस्ट यूपी में जबरदस्त मांग है मुंगेरी पिस्टल की

बागपत पुलिस ने पिस्टल बेचने वाले इमरान की तलाश में मारी दबिश

MEERUT : बागपत जेल में जिस पिस्टल से कुख्यात सुनील राठी ने पूर्वाचल के डान मुन्ना बजंरगी की गोलियां बरसाकर हत्या की है, वह पिस्टल मुंगेर से मंगाई गई थी। लिसाड़ी गेट में रहने वाले हथियारों के तस्कर से इस पिस्टल को खरीदा गया था। इस बाबत बागपत पुलिस ने लिसाड़ी गेट में हथियारों के तस्कर इमरान के घर पर दबिश डाली लेकिन वह रफू-चक्कर हो गया।

मेरठ से खरीदी थी पिस्टल

पुलिस व जेल अधिकारियों की जांच में साबित हो गया है कि बागपत जेल में मेरठ से खरीदी गई पिस्टल को पहुंचाया गया था। हथियार तस्कर ने यह पिस्टल मुंगेर से मंगाई थी। इसी पिस्टल से सुनील राठी ने मुन्ना बजरंगी को 7 गोलियां मारी है। जो सभी आरपार हो गई। मेरठ में मुंगेरी पिस्टल पंद्रह से बीस हजार रूपये में आसानी से मिल जाती है। किठौर के राधना गांव से इन पिस्टलों की वेस्ट यूपी में तस्करी होती है।

छोटे साइज की मुंगेरी पिस्टल मुंगेरी पिस्टल की यह खासियत होती है कि एक तो यह छोटे आकार की होती है। इसे कोई भी कहीं भी आसानी से छिपा सकता है। बहुत ही आसानी से इसका प्रयोग किया जा सकता है।

आरएसएस नेता की हत्या

एक साल पहले गाजियाबाद के आरएसएस के नेता की लुधियाना में हत्या हो गई थी। छानबीन में निकलकर आया था कि जिस हथियार से बदमाशों ने नेता की हत्या की है, वह हथियार मेरठ से खरीदे गए थे। एएनआई ने मेरठ से हथियार बेचने वाले को खरखौदा से गिरफ्तार कर लिया था।