हृह्रन्रूहृष्ठढ्ढ: घर के बरामदे में सो रहे वृद्ध गुरा लागुरी 62 वर्ष को कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी गई है. जबकि वृद्धा पत्नी बुधनी लागुरी को कुल्हाड़ी से वार कर जख्मी कर दिया गया है. ग्रामीणों के सहयोग से वृद्ध महिला को एम्बुलेंस में लेकर इलाज के लिए चाईबासा सदर अस्पतला भेजा गया. ग्रामीण मुंडा निर्मल लागुरी के सूचना पर जेटेया पुलिस घटनास्थल पहुंचकर जायजा लेने के बाद लौट गए. मामले को लेकर जेटेया थाने में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है. घटना जेटेया थाना क्षेत्र के कुदामसदा मोरासाई में मंगलवार रात्रि की है. घटना के विषय में ग्रामीणों ने बताया कि मंगलवार रात्रि को नियमित की तरह घर के बरामदे में दोनों वृद्ध पति-पत्नी सो रहे थे.

मौके पर ही मौत

रात के समय अचानक कुल्हाड़ी से गुरा लागुरी को वार कर हत्या कर दी गई. हत्यारों ने गुरा लागुरी को सर, चेहरा, गला, पीठ, कान आदि जगहों पर वार कर फरार हो गए. अधिक चोट लगने के कारण उसकी मौत घटनास्थल पर हो गई. जाते-जाते पत्नी बुधनी लागुरी को भी कुल्हाड़ी से अंधाधुंध वारकर जख्मी हालत में छोड़कर निकल गए. वह बेहोशी हालत में वही पड़ी हुई थी. दोनों वृद्ध अपने पोतों के साथ रहते हैं. घटना की रात को उनके सभी पोते घर के भीतर गहरी नींद में सो रहे थे. सुबह जागने के बाद जब बाहर निकलकर देखा तो दादाजी की हत्या हो चुकी थी. जबकि दादी को कुल्हाड़ी से वार करने के बाद लहूलुहान होकर बेहोश हालत में पड़ी हुई थी. परिजनों ने घटना की सूचना डाकुवा मंगलसिंह लागुरी को देकर मुंडा निर्मल लागुरी को बुलाया गया. मुंडा ने मुखिया कृष्णा लागुरी को खबर करने के बाद जेटेया पुलिस को सूचना देकर घटनास्थल बुला लिया गया. मौके पर पहुंची जेटेया पुलिस ने हत्या की आशंका जताते हुए जायजा लेने के बाद लौट गए. मुखिया कृष्णा लागुरी ने 108 नंबर पर डायल कर एम्बुलेंस को बुलाकर बुधनी लागुरी की इलाज के लिए चाईबासा सदर अस्पताल भेज दिया. ग्रामीणों ने बताया कि दोनों वृद्ध के बेटे घनश्याम लागुरी बड़बिल में रहकर मजदूरी करता है. दोनों अपने पोते की साथ रहते हैं.

डायन के संदेह में हुई थी पिटाई

कुदामसदा के मोरा लागुरी की पिटाई दो साल पहले डायन के संदेह में पीटकर जख्मी की गई थी. ग्रामीणों की समस्या गांव में ही सुलझाने की बात कहकर पुलिस को सूचना दिए बिना मामले को रफादफा कर दिया गया था. उस समय मारपीट किए दोनों आरोपियों को इलाज कराने की जिम्मेवारी देकर छोड़ दिया गया था.

परिजन दहशत में

जेटेया थाना क्षेत्र के कुदामसदा मोरासाई में हत्या की घटना के बाद परिजन भयभीत हैं. बुधवार रात्रि की घटना की पुनरावृत्ति न हो इसके लिए गांव वाले से सुरक्षा की गुहार लगा रहे हैं. पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लेने के बाद लौट गए हैं. पुलिस घटनास्थल से घटना के दूसरे दिन भी शव को पोस्टमार्टम के लिए कब्जे में नहीं लिया है.