-संदिग्ध हालात में घर के अंदर मिली लाश,

-जिस कमरे में मौत, उसी कमरे में 5 वर्ष की बच्ची भी थी

BAREILLY: किला थाना के केलाबाग में एक महिला की कमरे के अंदर जलकर संदिग्ध हालत में मौत हो गई है. महिला की जली हुई लाश मिली है. मौका-ए-हालात हत्या की ओर इशारा कर रहे हैं. क्योंकि जिस कमरे में लाश मिली है, उसी कमरे के अंदर ही उसकी 5 वर्ष की पोती भी थी लेकिन उसे कुछ भी नहीं हुआ है. महिला के बेटे ने घर पहुंचने पर लाश देखी है. जिस तरह से वारदात हुई, उससे पुलिस भी हैरत में पड़ गई है. महिला हत्या, हादसा या फिर आत्महत्या के सवालों के जवाब ढूंढ रही है. फील्ड यूनिट ने भी मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की है. पुलिस महिला के बेटे से पूछताछ कर रही है.

धुआं उठने की दी सूचना

55 वर्षीय शारदा केला बाग में रहती थी. उसका पति रामकृपाल रस्तोगी एसबीआई से रिटायर्ड हैं. उसके घर में बेटा अमित रस्तोगी, 5 वर्ष की पोती पाकी रहती है. अमित का पत्‍‌नी से विवाद चल रहा है और वह मायके में रहती है. अमित शुक्रवार को काम से बाहर गया था. उसके पति भी बाहर गए हुए थे. बेटे अमित ने पुलिस को बताया है कि उसे मोहल्ले वालों ने घर से धुआं निकलने की सूचना दी थी. जिसके बाद वह पहुंचा और मौसी को बुलाने चला गया. उसके बाद उसने घर के अंदर जाकर देखा तो कमरे में मां की जली हुई लाश पड़ी थी. उसी कमरे के एक कोने में 5 वर्ष की बच्ची भी थी, जिसे कुछ भी नहीं हुआ था. उसकी मानें तो पत्‍‌नी कहती थी कि घर में सिर्फ वह रहेगी या फिर उसकी मां.

वारदात पर खड़े हो रहे सवाल

-महिला ने सुसाइड किया होता तो वह कमरे के अंदर भागती और शोर भी होता. जिसकी वजह से बच्ची भी जल सकती थी लेकिन ऐसा नहीं था

-यदि महिला की मौत हादसे में हुई है तो फिर उसकी लाश जमीन पर क्यों पड़ी थी, और सिलिंडर नोजल समेत किचन से कमरे में क्यों रखा गया

-कमरे में खून बहा है और महिला की लाश के ऊपर कपड़े और पेपर डालकर जलाकर हादसे का रुप देने की कोशिश की गई

-जिस तरह से महिला की लाश मिली है, उससे साफ है कि कोई करीबी ही घर के अंदर पहुंचा और उसने आसानी से वारदात को अंजाम दिया

-क्या बहू ने वारदात को अंजाम दिया है या फिर बहू को फंसाने के लिए बेटे ने कोई प्लानिंग की है, पुलिस उससे पूछताछ कर रही है.