-हत्या की आशंका, गले पर मिले निशान विसरा प्रिजर्व

bareilly@inext.co.in
BAREILLY: चचेरी बहन से प्रेम प्रसंग के चलते एक युवक की जान चली गई. युवक बेहोशी की हालत में मंडे रात कोतवाली थाना अंतर्गत बाग बृगटान में कमरे में बेहोशी की हालत में मिला. प्रेमिका ने उसे मकान मालिक व पड़ोसियों की मदद से हॉस्पिटल पहुंचाया, लेकिन उसकी जान चली गई. युवक की संदिग्ध हालात में मौत से कई सवाल खड़े हो रहे हैं. उसके गले में निशान के चलते हत्या की आशंका जताई जा रही है, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है. डॉक्टर्स ने विसरा प्रिजर्व कर लिया है और ट्रेकिया केमिकल एनॉलिसिस पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है.

घर पर बोला था झूठ

35 वर्षीय अमर सैनी पुत्र कैलाश सैनी मूलरूप से मोहल्ला मारवाड़ी कैथल गेट, चंदौसी संभल का रहने वाला था. उसकी तीन वर्ष पहले शादी हुई थी. उसके परिवार में पत्‍‌नी दिशा सैनी, एक वर्ष का बेटा शिवांश और तीन भाई हैं. उसकी पहले चंदौसी में मोबाइल शॉप थी, लेकिन एक आईडी पर दो सिम देने की धोखाधड़ी में वह दो महीने जेल में गया था, जिसके बाद से उसने दुकान बंद कर दी थी. शादीशुदा होने के बावजूद उसका चचेरी बहन से अफेयर चल रहा था, जिससे परिवार के लोग उससे नाराज थे और वह बरेली आकर रहने लगा था. उसने घर में झूठ बोला था कि वह गाजियाबाद में जॉब कर रहा है.

प्रेमिका ने दिलाया था कमरा

अमर सैनी, बाग बृगटान में महेंद्र सिंह के मकान में एक महीने से किराये पर रह रहा था. उसे कमरा भी उसकी प्रेमिका ने दिलाया था. प्रेमिका बरेली में टायर मंडी जाटवपुरा में परिवार के साथ रहती है और वह उससे मिलने भी आती थी. दोनों के प्रेम प्रसंग से अमर व प्रेमिका के घर वाले खुश नहीं थे. प्रेमिका ने पुलिस को बताया कि शाम को उसके पास अमर का फोन आया कि वह आज कमरा छोड़ देगा और अब कोई प्रॉब्लम नहीं होगी.

बेहोशी की हालत में मिला

प्रेमिका के मुताबिक फोन आने पर वह कमरे में पहुंची तो देखा कि अमर कमरे में बेहोशी की हालत मे ंपड़ा हुआ था. उसने नीचे आकर मकान मालिक को बताया तो फिर आसपास के दो तीन युवकों को बुलाकर उसे रिक्शे से पास के दिनेश नर्सिग होम लेकर गए. वहां से उसे हायर सेंटर रेफर किया गया. जिसके बाद उसे एंबुलेंस से धनवंतरी तोमर हॉस्पिटल लेकर पहुंचे, यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. जिसके बाद प्रेमिका ने परिजनों को सूचना दी और परिजन रात में चंदौसी से बरेली पहुंचे.

हाथ पर लिखा प्रेमिका का नाम

पुलिस को रात में परिजनों ने थाने पहुंचकर सूचना दी. जिसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. रात में फील्ड यूनिट को बुलाया गया. फील्ड यूनिट ने मौके पर जांच की लेकिन कोई भी संदिग्ध चीज नहीं मिली. अमर की गर्दन पर गला दबाने का निशान था. उसके हाथ में मेंहदी से प्रेमिका का नाम लिखा था और अंगुली पर आई लव यू लिखा था. कुछ पास में उलटी भी पड़ी हुई थी, जिसकी वजह से ही पुलिस हत्या की आशंका जता रही है लेकिन उसका गले पर निशान कैसे आया, क्योंकि उसका ट्रेकिया 'गले की हड्डी' टूटा नहीं है. एसएचओ कोतवाली गीतेश कपिल ने बताया कि अब परिजनों की तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जाएगी.