पहचान छिपाने के लिए हत्या के बाद शव जलाने का किया प्रयास

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: धूमनगंज थाना क्षेत्र के गयासुद्दीनपुर इलाके में बुधवार देर रात करीब 30 वर्षीय एक युवक की नृशंस हत्या कर दी गई. कातिलों ने पहचान छिपाने के लिए युवक के शव पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी. गुरुवार सुबह जली लाश देख क्षेत्र में सनसनी फैल गई. काफी प्रयास के बावजूद पुलिस युवक की पहचान नहीं करा सकी.

शव देख पुलिस को दी सूचना

गयासुद्दीनपुर से सटा हुआ एक जंगल है. गुरुवार की सुबह करीब सात बजे उधर से गुजर रहे लोगों की नजर जली हुई डेड बॉडी पर पड़ी. शव देख वे दंग रह गए. शव मिलने की खबर पाते ही लोगों की भीड़ लग गई. किसी ने मामले की सूचना पुलिस को दी. एसएसआई धूमनगंज शैलेष सिंह पुलिस के जवान व डॉग स्क्वॉड और फोरेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंचे. छानबीन में पुलिस को शव के पास 315 बोर का एक खोखा, खून लगा ईट और खून से सने कपड़े मिले. कपड़े मृतक के ही हैं या किसी और के इसकी पड़ताल चल रही है. पुलिस की माने तो कातिलों ने पहले युवक को ईट से मारा और उसके बाद गोली मारकर हत्या कर दी. इसके बाद कुछ कपड़े व पॉलीथिन से शव ढककर पेट्रोल डालकर आग लगा दी. पुलिस को मौके से बाइक के पहिए के निशान भी मिले हैं. इस आधार पर माना जा रहा है कि युवक को मोटरसाइकिल से यहां लाया गया होगा. फिलहाल पुलिस जिले के अलावा दूसरे जनपदों की पुलिस को संदेश भेजकर गुमशुदा व अपहृत व्यक्तियों के बारे में जानकारी जुटा रही है, ताकि शव की शिनाख्त हो सके. मौत का कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट से स्पष्ट होगा, लेकिन कत्ल की वजह क्या है, इसका पर्दाफाश लाश की पहचान होने पर ही होगी. सोशल मीडिया के जरिए भी पुलिस मृतक की पहचान कराने की कोशिश कर रही है.

हत्या के बाद युवक का शव जलाया गया है. हालांकि अभी तक शव की शिनाख्त नहीं हो सकी. इसके लिए विभिन्न जनपदों में पुलिस से संपर्क किया जा रहा है. शिनाख्त के बाद ही हत्या के कारणों की जानकारी हो सकेगी.

- श्रीशचंद्र, सीओ, सिविल लाइंस