- गुलरिहा एरिया के शिवपुर सहबाजगंज की घटना

- घंटों थाना क्षेत्र के विवाद में उलझी रह गई पुलिस

GORAKHPUR: शिवपुर सहबाजगंज मोहल्ले में माशूका के घर में सोए युवक टेंपो ड्राइवर की गला काटकर हत्या कर दी गई। पादरी बाजार पुलिस चौकी पर पहुंचकर आरोपित की पत्‍‌नी ने पुलिस को सूचना दी। महिला और उसकी बेटी को हिरासत में लेकर पुलिस छानबीन में जुटी है। महिला के पति और बेटे की तलाश में पुलिस की एक टीम बिहार रवाना की गई है। घर के पास लगे सीसीटीवी कैमरे की मदद से पुलिस हत्या के सबूत जुटा रही है। एसएचओ गुलरिहा ने बताया कि टेंपो ड्राइवर का काफी दिनों से महिला से संबंध था। इसलिए वह उसके घर में ही रहता था।

प्रेमिका के पति संग घर में सोया था रामकरन

बिहार, गोपालगंज, कटया निवासी उमेश प्रसाद का शिवपुर साहबाजगंज में टीनशेड का मकान है। आठ साल पूर्व उमेश की जान पहचान बधिक टोला में रहने वाले रामकरन से थी। अविवाहित रामकरन ने उमेश के घर में ठिकाना बना लिया था। उमेश रिक्शा चलाकर अपने परिवार का भरणपोषण करता था। कुछ दिन पहले उसने रिक्शा बेचकर एक आटो खरीदकर रामकरन को चलाने के लिए दे दिया। उमेश की पत्‍‌नी शीला आसपास के घरों में चौका-बरतन करती है। उमेश के घर में रहने वाले रामकरन के अच्छे संबंध शीला से हो गए। इसकी जानकारी होने पर दोनों के बीच कई बार विवाद भी हुआ। रविवार की रात रामकरन और उमेश एक साथ बिस्तर पर सोए थे। सोमवार की सुबह शीला ने रामकरन की डेड बॉडी देखकर शोर मचाया। गला रेतकर उसकी हत्या कर दी गई थी। उसने पति के गायब होने पर हत्या का संदेह जताते हुए पुलिस को सूचना दी।

पुलिस को बताया पति ने मार डाला

हत्या की सूचना पर शाहपुर थाना की पुलिस पहुंच गई। लेकिन घटनास्थल गुलरिहा क्षेत्र का बताकर पुलिस घंटों घूमती रही। क्राइम ब्रांच के सीओ प्रवीण सिंह भी मौके पर पहुंचे। उमेश के घर के सामने लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज देखकर पुलिस घटना की जानकारी जुटा रही है। उमेश की एक 17 साल की बेटी और दो बेटे हैं। बड़ा बेटा मजदूरी करता है जबकि छोटा पढ़ाई कर रहा है। शीला ने पुलिस को बताया कि वह जहां पर काम करती है अक्सर वहीं सो जाया करती है। इसलिए रामकरन उसके घर पर रहता था। सोमवार सुबह उसकी बेटी ने बताया कि घर में रामकरन की लाश पड़ी है। डेड बॉडी देखकर रोती-चिल्लाती शीला पादरी बाजार पुलिस चौकी पर पहुंची थी।

होली के दिन से घर नहीं गया था रामकरन

रामकरन की मां ने पुलिस को बताया कि वह होली पर घर आया था। उसने कहा था कि एक ठेला बनवा दो जिस पर सब्जी बेचकर काम चलाउंगा। लेकिन शीला के पास नहीं जाऊंगा। इसके बाद वह दोबारा घर नहीं आया। बल्कि उसके मौत की सूचना मिली। करीब दो साल पहले राजघाट एरिया में रामकरन पर हमला हुआ था जिससे उसकी आंखों की रोशनी चली गई। हत्यारोपी की तलाश में पुलिस ने महिला और उसकी बेटी को हिरासत में ले लिया है। पुलिस का कहना है कि महिला के पति ने बेटे संग मिलकर रामकरन की हत्या कर दी। दोनों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। महिला की भूमिका से एसएचओ ने इंकार किया है।

वर्जन

आरोपियों की तलाश की जा रही है। हत्या में महिला के पति और बेटे शामिल हैं। दोनों की तलाश की जा रही है। जल्द ही उनको अरेस्ट कर लिया जाएगा।

- मनोज कुमार राय, एसएचओ