हत्या के बाद शव कमरे में बंद कर हो गया फरार

बेटे को ननिहाल छोड़ा तो पत्‍‌नी की मां को हुआ शक

बेटी के घर पहुंची मां तो हुआ हत्या का खुलासा

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: अग्नि को साक्षी मानकर सात जन्मों तक साथ निभाने की शपथ, सात साल भी नहीं निभा सकी. पति से बेवफाई कर करछना के घोड़े डीह गांव की सुलेखा केसरवानी ने क्षेत्र के ही हिंदूपुर गांव निवासी राजेश हेला से शादी कर ली. शुक्रवार को राजेश ने ही उसे मौत के घाट उतार दिया. हत्या के बाद शव को कमरे में बंद कर बेटे को ननिहाल पहुंचाने के बाद फरार हो गया. शनिवार को अचानक सुलेखा की मां राजेश के घर पहुंची तो कमरे में शव देख उसके होश उड़ गए.

आए दिन होता था विवाद

घोड़े डीह गांव निवासी हरिश्चंद्र केसरवानी ने बेटी सुलेखा (23) की शादी करीब पांच साल पहले मुट्ठीगंज निवासी सोनू के साथ की. शादी के बाद उसे एक बेटा हुआ, जो इस समय करीब पांच वर्ष का है. बताते हैं कि शादी के चार साल बाद सुलेखा ने पति सोनू को छोड़ कर करछना के ही हिंदूपुर गांव साधूकुटी निवासी राजेश हेला से दूसरी शादी कर ली. दूसरी शादी के बाद वह ससुराल मुट्ठीगंज छोड़ कर दूसरे पति राजेश के साथ उसके घर पर रहने लगी. कुछ माह बाद दूसरे पति से उसका आए दिन विवाद होने लगा. सुलेखा की मां का आरोप है कि शुक्रवार को भी किसी बात पर सुलेखा और राजेश के बीच विवाद हुआ था. राजेश ने उसकी गला दबा कर हत्या कर दी. शाम के समय जब वह बेटे को ननिहाल छोड़ने पहुंचा तो पत्‍‌नी की मां को बेटी के साथ कुछ होने की शंका हुई. शंका निवारण के लिए वह शनिवार को बेटी के घर हिंदूपुर गांव पहुंची. उसके मुताबिक कमरे में ताला बंद था और बाहर तक बदबू आ रही थी. ताला तोड़ कर कमरे में देखी तो कमरे में बेटी सुलेखा की लाश पड़ी थी. उसके घर के सभी लोग फरार थे. सुलेखा के पिता ने राजेश और उसके भाइयों के खिलाफ हत्या की तहरीर पुलिस को दी है.

सुलेखा नामक युवती की हत्या उसके दूसरे पति राजेश द्वारा किए जाने की तहरीर दी गई है. मामले की जांच की जा रही है. सभी आरोपी फरार हैं. आरोपियों की तलाश की जा रही है. पंकज त्रिपाठी, एसओ करछना