- मसूरी विधायक गणेश जोशी ने सीएस उत्पल कुमार सिंह से की मुलाकात

- मसूरी को स्मार्ट हिल टाउन बनाने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजने का किया आग्रह

DEHRADUN: मसूरी, नैनीताल के अलावा देश की दूसरी टूरिस्ट सिटीज को स्मार्ट हिल टाउन बनाने की मांग उठने लगी है. वेडनसडे को मसूरी विधायक गणेश जोशी ने चीफ सेक्रेटरी उत्पल कुमार से मुलाकात कर केंद्र को प्रस्ताव भेजने का आग्रह किया. विधायक ने कहा कि आगामी 21 जून को इंटरनेशनल योगा-डे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का देहरादून का दौरा प्रस्तावित है. उन्होंने राज्य सरकार से आग्रह किया गया है कि केंद्र को प्रस्ताव भेजा जाए.

पीएम के दौरे पर बेहतर मौका

मसूरी विधायक गणेश जोशी ने मुख्य सचिव को सौंपे पत्र में अवगत कराया है कि शिमला जैसे पहाड़ी क्षेत्र में पेयजल की किल्लत देश के दूसरे पहाड़ी टूरिस्ट सिटीज में भी हो सकती है. कहा कि हमारे पहाड़ी स्टेशनों के बुनियादी ढांचे में निवेश की कमी है. समय रहते यदि इसमें संसोधन किया जाए तो यह पर्यटन केंद्रों के अलावा लाखों लोगों को रोजगार प्रदान करने के साथ ही सरकारी राजस्व में योगदान दे सकता है. सीएस के सामने विधायक ने प्रस्ताव रखा कि स्मार्ट शहरों की तर्ज पर केंद्र सरकार स्मार्ट पहाड़ी कस्बों के लिए एक योजना पेश करे. कहा कि देश में करीब 7.8 प्रमुख पहाड़ी स्टेशंस हैं, जिनको आधारभूत उन्नयन की सख्त जरूरत है. प्रधानमंत्री की यात्रा पर मसूरी व दूसरे स्थानों को स्मार्ट हिल टॉउन बनाने की घोषणा करना एक उपयुक्त अवसर हो सकता है.

मसूरी में जाम की परेशानी

विधायक ने देहरादून मसूरी रोपवे के कार्य को भी जल्द शुरू करने का सीएस से आग्रह किया. कहा, हर वर्ष मसूरी में पर्यटकों की संख्या में इजाफा हो रहा है, जिस कारण कई किलोमीटर तक लंबे जाम की स्थिति बन जाती है. यही नहीं इससे आम लोगों को भी खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. विधायक ने मसूरी में पेयजल की किल्लत व अस्पताल में अल्ट्रासाउंड के लिए डॉक्टर की मांग भी सीएस के सामने रखी.