छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: नैक टीम के सदस्यों ने सोमवार को जमशेदपुर वीमेंस कॉलेज और घाटशिला कॉलेज का जायजा लिया. नैक की टीम सबसे पहले वीमेंस कॉलेज पहुंची और जरूरी चीजों की जांच के बाद आइक्यूएसी की बैठक में भाग लिया. इस बैठक में सदस्यों ने कई तरह के सुझाव दिये. डेढ़ घंटे चली इस बैठक में प्राचार्या डॉ. पूर्णिमा कुमार और आइक्यूएसी के सदस्यों से कई तरह के सवाल पूछे गये और प्रतिवेदनों को देखा. कई तरह के निर्देश भी दिये गये. इसके बाद सभी सदस्यों ने ऑडियो विजुअल हॉल में सभी विभागों का प्रेजेंटेशन देखा. प्रजेंटेशन में दिखाये गये बिंदुओं के विस्तृत चर्चा की.

संतुष्ट दिखी टीम

टीम विभागों के कामकाज से संतुष्ट दिखी. इसके कॉलेज का मुआयना तथा व्यवस्थाओं को देखा. दोपहर में छात्रों एवं अभिभावकों से मुलाकात की. छात्रों और अभिभावकों से उनकी समस्याओं के बारे में भी जाना. कॉलेज के शैक्षणिक गतिविधि को लेकर कई तरह के सवाल पूछे गये. छात्रों ने पठन-पाठन पर संतोष जाहिर किया. मंगलवार को भी टीम कॉलेज के सभी विभागों का निरीक्षण करेगी तथा एक्जिट मीटिंग में भाग लेगी. जमशेदपुर वीमेंस कॉलेज की नैक टीम में कोयंबटूर की अविनाशहिलिंगम डीम्ड यूनिवर्सिटी की पूर्व वाइस चांसलर चेयरमैन के रूप में, सदस्य के रूप में संत फ्रांसिस कॉलेज फॉर वूमेन की पूर्व प्राचार्य डॉ. अलफोंसा वटोली तथा बनारस ¨हदू यूनिवर्सिटी की बीएड विभाग की डीन प्रोफेसर आशा पांडे शामिल थी.

पहली बार आई है टीम

घाटशिला कॉलेज में पहली बार नैक की टीम आयी है. कॉलेज पहली बार राष्ट्रीय मूल्यांकन प्रत्यायन परिषद (नैक) को आवेदन दिया है और उसी आधार पर टीम यहां पहुंची है. नैक टीम में चेयरमैन के रूप में पुणे के डेक्कन कॉलेज पोस्ट ग्रेजुएट एंड रिसर्च इंस्टीच्यूट के वाइस चांसलर प्रोफेसर यूएस सिंदे, सदस्य के रूप में लोरेटो कॉलेज कोलकाता की प्रिंसिपल क्रिस्टिन कोटिनहो शामिल थे. नैक टीम में आइक्यूएसी के सदस्यों के साथ बैठक के बाद सारे विभागों के प्रेजेंटेशन को देखा. उसके बाद कोल्हान विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार डॉ. एसएन सिंह से बातचीत की और कॉलेज की समस्याओं को लेकर विस्तार से चर्चा की. रजिस्ट्रार ने विश्वविद्यालय द्वारा उठाये गये कदम की भी जानकारी दी और क्षेत्र ट्राइबल होने के कारण इस कॉलेज की आवश्यकता पर भी बल दिया. इस मौके पर केयू के खेल प्रभारी डॉ. अविनाश कुमार तथा कॉलेज के प्राचार्य प्रोफेसर विनोद कुमार शामिल थे.