- पार्षदों के बाद अब सफाई कर्मियों के दो संघ आमने सामने.

- एक मजदूर संघ तो दूसरा कर्मचारी संघ.

BAREILLY:

नगर निगम में पार्षदों और सफाई नायक मन्नू की बीच छिड़ी जंग ने थर्सडे को नया मोड़ ले लिया. जब सफाई नायक को लेकर सफाई कर्मचारी यूनियन ही आमने-सामने आ गए हैं. मन्नू की वकालत कर रहे उत्तर प्रदेश सफाई मजदूर संघ का उत्तर प्रदेशीय सफाई कर्मचारी संघ ने विरोध कर रहा है. उसका तर्क है कि पार्षद अपनी जगह सही हैं. संघ ने मन्नू के पक्ष में सफाईकर्मियों को खड़ा होने से मना किया है.

उत्पीड़न कर रहा मजदूर संघ

सफाई कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष तरुण गौतम ने सफाई मजदूर संघ पर आरोप लगाते हुए कहा कि सफाई कर्मचारियों का उत्पीड़न सफाई मजदूर संघ ही कर रहा है. अपने निजी स्वार्थ के लिए राजनीतिक खेल खेला जा रहा है. साथ ही उन्होंने अपने संघ के पदाधिकारियों से कहा कि कोई भी मजदूर संघ के धरना प्रर्दशन में न जाए. साथ ही उन्होंने कहा कि उनका संघठन सभी पार्षदों के साथ है.

शासन को भ्ोजा लेटर

उत्तर प्रदेश सफाई मजदूर संघ ने तो पहले से ही पार्षदों के विरोध में हंगामा कर रखा है वहीं थर्सडे को संघ ने पार्षद पूनम गंगवार के पति के खिलाफ शासन को लेटर भेजकर जांच की बात कही है. लेटर में लिखा है कि उनके पति हर बैठक में आकर बैठते है, लेटर हेड पर फर्जी हस्ताक्षर भी करते है. उनकी जगह सारा काम वहीं करते है.