- पार्षद पति और स्वास्थ्य अधिकारी के बीच जमकर तनातनी

- स्वास्थ्य अधिकारी का पार्षद ने किया अपमान

BAREILLY:

सत्ता चली गई, लेकिन सपा पार्षदों की दबंगई जारी है. सफाई कर्मचारियों का वार्ड से तबादला करने से नाराज वार्ड 42 से सपा पार्षद अनीता गुप्ता का पति चंद्र प्रकाश सैटरडे को नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अशोक कुमार के दफ्तर में पहुंचकर उनसे भिड़ गया. चिल्लाते हुए नगर स्वास्थ्य अधिकारी से बोला आखिर उनके वार्ड से किससे पूछकर सफाई कर्मचारियों के तबादले किए गए. हंगामे और शोर सुनकर स्वास्थ्य विभाग के तमाम कर्मचारी नगर स्वास्थ्य अधिकारी के दफ्तर में जमा हो गए, लेकिन पार्षद पति नगर स्वास्थ्य अधिकारी की टेबल पीट-पीटकर उनसे उलझता रहा. पार्षद पति के जाने के बाद नगर स्वास्थ्य अधिकारी ने नगर आयुक्त को लेटर लिखकर खुद को पद से हटाने की बात कही.

चिल्ला चिल्ला कर कहा किससे पूछ कर किए ट्रांसफर

नगर स्वास्थ्य अधिकारी ने दो वार्डो के सफाई कर्मियों को आपस में बदल दिया था. जिसके बाद वार्ड की पार्षद अनीता के पति चंद्रपाल नगर स्वास्थ्य अधिकारी के ऑफिस में आए और अधिकारी के साथ बदसलूकी की, जोर जोर से चिल्लाने लगे. टेबल पर भी हाथ मारने लगे. और कहने लगे कि किससे पूछ कर किए ट्रांसफर.

तुमसे पूछने की जरूरत नहीं

पार्षद पति के चिल्लाने के बाद डॉ. अशोक कुमार ने भी जवाब दिया कि ट्रांसफर करने के लिए तुमसे पूछने की जरूरत नहीं. यह मेरा अधिकार है कि किसका ट्रांसफर कहां करना है. इस बात को लेकर दोनों में काफी कहासुनी हो गई और विवाद बढ़ता चला गया. शोर सुनकर स्वास्थ्य विभाग के अन्य कर्मचारी भी वहां पहुंच गए.

मेरे ऑफिस में सीधे न आए

लेटर में उन्होंने यह भी लिखा है कि कोई भी पार्षद मेरे ऑफिस में सीधे न आए. साथ ही कहा कि उन्हें उनके काम का पूरा अधिकार होना चाहिए. किसका ट्रांसफर कहां किया जाना है इसमें कोई इंटरफेयर न करें.

मुझे पद से कार्यमुक्त किया जाए

हंगामे से अधिकारी भी इतने परेशान हो गए कि अपना-अपना पद छोड़कर भाग रहे हैं. लेटर में यह भी लिखा गया है कि उनके साथ कोई बद्तमीजी न करे और यदि यही सब चलता रहा तो उन्हें उनके पद से कार्यमुक्त किया जाए.