-शहर के कई एरिया में हो रही गंदे पानी की सप्लाई

-कई जगहों पर तो पानी आ ही नहीं रहा है

BAREILLY: देश को आजाद हुए 71 साल बीत गए, लेकिन शहर के कई एरिया में आज भी लोग पीने के पानी की किल्लत झेल रहे हैं. कहीं नगर निगम पाइपलाइन से पानी की सप्लाई नियमित नहीं दे रहा है तो कहीं गंदे पानी की सप्लाई हो रही है. ईद के त्यौहार पर भी लोगों के घरों में सूखा पड़ा हुआ था. गंदा पानी आने से तंग लोगों ने मजबूरी में अपने घरों में नलों और टंकियों में कपड़ा बांध रखा है.

इतना हो चुका है खर्च

2017-18 12,05,49,732

2018-19 65,56,132

इन एरियाज में ज्यादा मुश्किल

शहर के कई एरिया में गंदे पानी की सप्लाई हो रही है. कई बार शिकायत करने के बाद भी नगर निगम के जलकल विभाग के अफसर इस समस्या का समाधान नहीं कर पा रहे हैं.

-सुभाष नगर

-कांकर टोला

-सूफी टोला

-मरघटिया

-हजियापुर

-एजाजनगर

-पनबडि़या

दो दिनों से नहीं आ रहा पानी

मोहल्ला सूफी टोला के लोगों ने बताया कि पिछले दो दिनों से पूरे मोहल्ले में पानी की सप्लाई ही नहीं आ रही है. ईद के त्यौहार पर भी पानी की दिक्कत बनी रही. आसपास के घरों में लगे हैंडपंप से पानी लेकर आना पड़ता है.

पीने लायक भी नहीं

पानी की किल्लत से शहर के कई इलाकों में लोग जूझ रहे हैं. कहीं पानी आता नहीं है तो कहीं इतना गंदा है कि पीना तो दूर उससे कपड़े तक नहीं धुल सकते. नगर निगम पानी का टैक्स लेकर भी ऐसे पानी की सप्लाई कर रहा है जो किसी काम का नहीं है.

कपड़ा बांध कर चला रहे काम

कई बार शिकायत करने के बाद भी गंदे पानी की सप्लाई बंद नहीं हो रही है. ऐसे में लोगों ने अपने घरों में टंकी और हैंडपंप में कपड़ा बांध रखा है. जब उनसे पूछा गया कि उन्होंने ये कपड़ा क्यों बांध रखा है तो उन्होंने कहा कि कोई तो उनकी शिकायत सुनता नहीं है. ऐसे में वह भी क्या करें किसी तरह से साफ पानी मिले इसके लिए उन्होंने कपड़ा बांध रखा है.

वर्जन

सूफी टोला में यह समस्या एक-दो दिनों से नहीं है. पिछले कई महीनों से पानी का यही हाल है. यहां पानी आता ही नहीं है और जब भी आता है तो गंदा आता है.

-पप्पू, सूफी टोला

गंदा पानी पीने से बच्चे बीमार हो रहे हैं. शिकायत करने के बाद भी अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं. ऐसे कब तक झेलेंगे कुछ समझ नहीं आता

-मोहित, सुभाषनगर

पानी के लिए बार बार आकर टंकी खोलते हैं. लेकिन दो दिनों से पानी आया ही नहीं है. पहले कम से कम कभी-कभी आ तब भी जाता था

-राजा, सूफी टोला

ईद के त्यौहार में पूरे दिन इधर-उधर के नलों से पानी भरकर काम चलाया है. जिसके घर में नल था वहां से किसी तरह लाते रहे पानी.

-मुन्ना, सूफी टोला

अपर नगर आयुक्त ईश शक्ति कुमार सिंह से रैपिड फायर..

सवाल: नगर निगम ने करोड़ों रुपए पानी के लिए खर्च कर दिए लेकिन अभी भी पानी की समस्या बरकरार है?

जवाब: हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि किसी को भी पानी की समस्या से न जूझना पड़े. इसके लिए लगातार प्रयास जारी हैं.

सवाल: लोगों के घरों में गंदा पानी आ रहा है. उन्हें टंकियों पर कपड़ा बांध कर काम चलाना पड़ रहा है?

जवाब: ऐसे अभी तक कोई मामला संज्ञान में नहीं आया है. अगर ऐसा कुछ है तो उसे चेक कराया जाएगा