- एलईडी लगने के बाद स्ट्रीट लाइट का बिल कम होने का दावा फेल

अब तक 28 हजार एलईडी लाइट लगाई जा चुकी हैं शहर में

देहरादून, सड़कों पर एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाने के बाद बिल में कमी आने का दावा पूरी तरह से फेल हो गया है. 28 हजार एलईडी लाइट लगाने के बावजूद अब तक बिजली के बिल में कोई कमी नहीं आ पाई है. हालांकि बिजली विभाग के अधिकारियों का कहना है कि पहले से बिल में काफी राहत मिली है.

14 माह में 28000 एलईडी

निगम के बिजली अनुभाग के मुताबिक चार माह यानि कि सितंबर से दिसंबर 2017 तक शहर में 42 हजार सोडियम लाईट की जगह पर एलईडी लाइट लगाई जानी थी, लेकिन 14 माह में 28 हजार एलईडी लाइट ही लग पाई. ऐसे में टारगेट को पूरा होने में कितना समय लगेगा, निगम के बिजली अनुभाग को ही खुद पता नहीं है.

बिल आधा होने का था दावा

एलईडी योजना को धरातल पर उतरते ही, हर माह बिजली के बिल में कटौती होने का दावा किया गया था, लेकिन बिजली के बिल में कोई इजाफा नहीं हुआ है. निगम से मिली बिल की सूची दावे को खोखली साबित होती हुई नजर आ रही है.

एलईडी लगाने में फंसा पेंच

योजना को तय समय पूरा न करने को लेकर निगम का कहना है कि शहर के कई स्थानों पर बिजली विभाग व एमडीडीए के कनेक्शन भी हैं, जिससे बिजली के लाईन में काफी फॉल्ट भी आ रहा है. संबंधित विभाग को कई बार लेटर भी जारी किया जा चुका है, बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है.

वर्ष 2018

जनवरी - 50.52 लाख

फरवरी - 44. 41 लाख

मार्च - 45.98 लाख

वर्ष 2017

जनवरी - 65.15

फरवरी - 33.15

मार्च- 42.17

-------------

एलईडी लाइट लगने के बाद बिजली के बिल में कटौती हुई है. शहर में 28 हजार एलईडी लाइट लग चुकी हैं.

रंजीत राणा, प्रकाश अधीक्षक, नगर निगम