- बारिश से तीन दर्जन से अधिक सड़कों को पहुंचा है खासा नुकसान

- निगम की ओर से वार्डवार शुरू कराया जा रहा है सर्वे का काम

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW:

झमाझम बारिश के कारण शहर की तीन दर्जन से अधिक मुख्य सड़कों का नुकसान पहुंचा है. जबकि गली-मोहल्लों में स्थित सड़कों का आंकड़ा अभी सामने आना बाकी है. हालांकि अब निगम की ओर से नए सिरे से सड़कों का सर्वे शुरू कराने की तैयारी की जा रही है. जिससे बारिश से छलनी सड़कों पर मरहम लगाया जा सके.

पार्षदों को भी जिम्मेदारी

यह जानकारी सामने आई है कि वार्ड पार्षदों को भी जर्जर हो चुकी सड़कों को चिन्हित करने की जिम्मेदारी दी जाएगी. पार्षदों से कहा जाएगा कि वे अपने-अपने वार्ड की जर्जर सड़कों की जानकारी दें. लिस्ट तैयार होने के बाद एक-एक कर सड़कों को ठीक करने का काम शुरू किया जाएगा.

गुणवत्ता की भी जांच

बदहाल हो चुकी सड़कों की गुणवत्ता की जांच भी निगम की ओर से कराई जाएगी. जिससे पता चले कि आखिर इनके उखड़ने की वजह क्या है. अगर गुणवत्ता में लापरवाही सामने आएगी तो संबंधित ठेकेदार से सवाल-जवाब किया जा सकता है. सड़कों की गुणवत्ता की जांच जोनवार कराई जाएगी. पहले यह रिपोर्ट नगर आयुक्त के पास जाएगी, फिर मेयर के पास.

सड़कों में गड्ढे-बजरी

ज्यादातर सड़कों में गड्ढे होने से बजरी ऊपर आ गई है. जिससे लोगों को परेशानी हो रही है. पॉलीटेक्निक से मुंशीपुलिया की तरफ जाने वाला रास्ता हो या बापू भवन या फिर कपूरथला कई जगहों पर सड़क धंसने की जानकारी सामने आई है. इस्माइलगंज द्वितीय में करीब 29 लाख की लागत से नौ माह पहले बनी सड़क उखड़ गई है. वहीं लालकुआं वार्ड में भी सड़क उखड़ने की बात सामने आई है.

ऐसे प्वाइंट चिन्हित कराए जा रहे हैं, जहां सड़क उखड़ी है या उस पर गड्ढे हो गए हैं. वार्डवार रिपोर्ट तैयार होने के बाद एक साथ मेंटीनेंस का काम भी शुरू कराया जाएगा.

संयुक्ता भाटिया, मेयर