कानपुर। जैन मुनि तरुण सागर महाराज  (51 वर्ष) के निधन की खबर से  देश-विदेश में मौजूद उनके अनुयायियों में शोक की लहर दौड़ गर्इ। खबरों की मानें तो प्रसिद्ध जैन मुनि तरुण सागर बीते कर्इ दिनों से बीमार थे। उन्हें उपचार हेतु दिल्ली के एक निजी अस्पताल में एडमिट कराया गया था जहां डॉक्टरों ने उन्हें अपनी निगरानी में रखा था। जैन मुनि तरुण सागर महाराज कृष्णा ने नगर के राधे पूरी में आज सुबह करीब तीन बजे अंतिम सांस ली है। कहा जा रहा है कि जैन मुनि तरुण सागर का अंतिम संस्कार मोदीनगर (यूपी) में उनके नाम से बने आश्रम में किया जाएगा। उनके अंतिम दर्शन के लिए उनके अनुयायियों की भीड़ जुटने लगी है।

51 वर्ष की उम्र में जैन मुनि तरुण सागर महाराज का निधन,पीएम मोदी ने जताया शोक

पीएम ने ट्वीट कर जताया शोक
वहीं जैन मुनि तरुण सागर महाराज के निधन पर पीएम ने ट्वीट किया है कि जैन मुनि तरुण सागर के निधन की खबर से बहुत दुखी हूं। हम उन्हें हमेशा उनके प्रवचनों और समाज के प्रति दिए गए उनके योगदान को लेकर याद करेंगे। मेरी संवेदनाएं जैन समुदाय और उनके शिष्यों के संग हैं। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया है कि जैन मुनि श्रद्धेय तरुण सागर जी महाराज के असामयिक महासमाधि लेने के समाचार से मैं स्तब्ध हूं। वे प्रेरणा के स्रोत, दया के सागर एवं करुणा के आगार थे। भारतीय संत समाज के लिए उनका निर्वाण एक शून्य का निर्माण कर गया है।  मैं मुनि महाराज के चरणों में अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

पीएम मोदी काठमांडू में, करेंगे बिम्सटेक नेताआें से मुलाकात

बीजेपी के मुख्यमंत्रियों संग आज बैठक करेंगे पीएम मोदी व अमित शाह, इन मुद्दों पर होगी चर्चा

National News inextlive from India News Desk