- रानीपोखरी में 10 एकड़ भूमि पर बनेगा लॉ विवि, अब तक देश में केवल 21 विवि

DEHRADUN: लॉ के क्षेत्र में अपना कैरियर संवारने का सपना संजोए हुए युवाओं के लिए खुशखबरी. आने वाले दिनों में राज्य को पहले नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी की सौगात मिलेगी. मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश को क्वालिटी एजुकेशन हब बनाने की दिशा में यह एक बड़ा कदम साबित होगा. मुख्यमंत्री ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया है.

देशभर के स्टूडेंट्स को मिलेगा मौका

दरअसल, इस वक्त देशभर में महज 21 नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी हैं, जिनमें क्लेट के जरिए ही एंट्री मिल पाती है. इनमें ग्रेजुएट व पीजी के सिलेबस संचालित किए जाते हैं. उत्तराखड में नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी की स्थापना देहरादून के निकट रानीपोखरी में करीब 10 एकड़ भूमि पर की जाएगी. सीएम ने आशा जताई है कि राज्य में नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी की स्थापना होने से सूबे के साथ ही देशभर के टैलेंटेड स्टूडेंट्स को प्रवेश का मौका मिल पाएगा. इस विवि के निकटवर्ती क्षेत्रों की आर्थिकी को भी लाभ मिल पाएगा. सीएम ने कहा कि सरकार उत्तराखंड को एजुकेशन व टूरिज्म हब बनाने की ओर अग्रसर है. जिसमें केंद्र सरकार का भरपूर सहयोग मिल रहा है. सीएम ने कहा कि इससे पहले डोईवाला में सीपैट की क्लोसेज भी शुरू की जा रही हैं. जबकि किच्छा व लालढांग में दो नए मॉडल डिग्री कॉलेज व पौड़ी गढ़वाल जिले के पैठाणी में प्रोफेशनल कॉलेज के लिए भूमि चयन के साथ बजट भी स्वीकृत किया जा चुका है. इन कॉलेजों का पीएम ने रिमोट के माध्यम से शिलान्यास किया.