-नवीन मार्केट का स्मार्ट लुक और एनक्रोचमेंट फ्री एरिया कस्टमर्स को कर रहा है अपनी ओर अटै्रक्ट

- नो पार्किंग जोन होने से व्यापारियों ने भी ली राहत की सांस, डीजे आई नेक्स्ट से शेयर की अपनी फीलिंग

kanpur : अपने नए स्मार्ट लुक में आए नवीन मार्केट को लेकर जितना ज्यादा उत्साहित यहां के व्यापारी हैं, उससे कहीं ज्यादा जोश में कस्टमर्स नजर आ रहे हैं. शाम होते ही सफेद दूधिया रोशनी से नहाई मार्केट सभी को अपनी ओर खींचने लगती है. मार्केट की फेस लिफ्टिंग और इंक्रोचमेंट से मुक्त होने से पूरा नजारा ही बदल चुका है. यहां के व्यापारियों का मानना है कि अब कस्टमर्स के साथ हमें भी दिल्ली के कनाट प्लेस और हजरतगंज मार्केट जैसा अहसास होता है. सैटरडे को यहां के दुकानदारों ने दैनिक जागरण आई नेक्स्ट से मार्केट के स्मार्ट लुक और अंदाज को लेकर अपने एक्सपीरियंस शेयर किए.

सेफ्टी और सुविधाएं एक साथ

नो पार्किंग जोन को लेकर लोगों में काफी सजगता देखने को मिल रही है. यहां आने वाले अधिकांश दुकानदार व कस्टमर्स ने अपने वाहन मल्टीलेवल पार्किंग में खड़े किए. उनका कहना है कि मल्टीलेवल पार्किंग के लिए चंद रुपए खर्च कर उन्हें सुविधा और वाहन की सेफ्टी दोनों ही चीजें एक साथ मिल रही हैं. जबकि, इसके पहले सड़कों पर वाहन को लावारिस छोड़ कर जाने के बाद उसके चोरी होने का डर बना रहता था.

--------------

व्यापारियों के वर्जन-

व्यापार मंडल के लोगों ने जिस तरह हमें आश्वासन दिया था, वैसा रिजल्ट देखने को नहीं मिल रहा है. पार्किंग रेट व्यापारियों ने अपने मुताबिक तय किए हुए हैं. इसके बाद भी लोग पैसे बचाने के फेर में कार और बाइक पार्किंग में पार्क करने से बचते नजर आ रहे हैं.

-गौरव जायसवाल

नो पार्किंग जोन दुकानदार और कस्टमर दोनों के लिए फायदेमंद है. मार्केट में चारों ओर खड़े आड़े तिरछे वाहनों की वजह से भी कस्टमर मार्केट आने से बचता था. जबकि, अब वह आराम से मार्केट में घूम कर खरीदारी कर सकता है.

-सिचन सोनी

-नगर निगम और केडीए की ओर से एक अच्छी शुरुआत की गई है. अतिक्रमण मुक्त नवीन मार्केट ने एक नई तस्वीर पेश की है, जिसे हर कोई देखना चाहता है. अब लगता है हमारा कानपुर भी स्मार्ट की दिशा में आगे बढ़ चुका है.

-मनोज अशोणि

एक जगह के ग्राहकों को दूसरी जगह पहुंचने में थोड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, जो कुछ दिनों में लोगों की आदत में शुमार हो जाएगा. बाकी क्रिस्टल पार्किंग की सुविधा आज से बहुत पहले ही कस्टमर्स को मिल जानी चाहिए थी.

-गोपी राम चंदानी

- क्रिस्टल पार्किंग व्यापारियों और कस्टमर दोनों के लिए फायदेमंद है, क्योंकि दोनों लोग गाडि़यां पार्किंग में पार्क कर निश्चिंत होकर शॉपिंग कर सकते हैं. इससे अब पुलिस का भी डर नहीं होगा कि कब वाहन उठा ले जाएं.

- तबरेज

नो पार्किंग जोन हो जाने से नवीन मार्केट में जो एक खुला, अतिक्रमण मुक्त वातावरण देखने को मिल रहा है, वो वाकई में सराहनीय है. अगर बुजुर्गो के लिए अंदर ई रिक्शा चला दिया तो शायद और हलचल देखने को मिले.

-जावेद सिद्दीकी

-नवीन मार्केट के लिए जो कदम उठाए गए अच्छा है. अगर थोड़ी व्यापारियों की बात भी मान ली जाए तो और बेहतर हो जाएगा. जिसकी दुकान लास्ट में है वहां तक कस्टमर नहीं पहुंच पाता है. ऐसे में पिक एंड ड्रॉप की व्यवस्था भी होनी चाहिए.

-हरीश अरोरा

नवीन मार्केट में एक बड़ा स्पेस देखने को मिला है. कई बार कस्टमर तो मार्केट में इंक्रोचमेंट और अव्यवस्था देख कर गायब हो जाते थे, वो भी एक बार मार्केट घूमने का मन बना रहे हैं.

-विजय कुमार

- ऐसे कस्टमर जो चलने में असमर्थ हैं, उनको वाहन से अंदर तक जाने की सुविधा मिलनी चाहिए. या फिर ई रिक्शा की सुविधा मिलनी चाहिए, जिससे लोगों के मन में मानवता की भावना भी जागेगी और किसी को रोजगार मिल जाएगा.

-राकेश लोरी

नो पार्किंग जोन अच्छा प्रयास है. मार्केट की सूरत बदली है. कस्टमर्स बाजार में आने के लिए अट्रैक्ट हो रहे हैं. टू व्हीलर्स के लिए मार्केट के बाहरी जोन में पार्किंग की व्यवस्था होती तो ज्यादा बेहतर होता.

-दीपक सविता