ranchi@inext.co.in
RANCHI झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री सह झारखंड विकास मोर्चा के सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को जान से मारने की धमकी मिली है। बाबूलाल ने बताया कि सोमवार शाम उन्हें एक चिट्ठी मिली थी जिसमें भाकपा माओवादियों के द्वारा लिखा गया है कि उन्हें बम से उड़ा दिया जाएगा। साथ ही चिट्ठी में हिदायत दी गई है कि वे 23 अप्रैल से 19 मई के बीच झारखंड में न रहें। बाबूलाल ने बताया कि धमकी के लिए अधिवक्ता अविनाश सिन्हा के लेटर पैड का इस्तेमाल किया गया है जो रांची से पोस्ट किया गया है। बाबूलाल ने इस संबंध में राज्य सरकार से जांच कराने की मांग की है।

कोडरमा से हैं प्रत्याशी
झारखंड के 14 लोकसभा सीटों के लिए महागठबंधन के बीच सीटों के बंटवारे में झारखंड विकास मोर्चा को दो सीटें मिली हैं। कोडरमा लोकसभा सीट झारखंड विकास मोर्चा को दी गई है। कोडरमा लोकसभा सीट से बाबूलाल मरांडी चुनावी मैदान में हैं। यहां उनका मुकाबला भाजपा प्रत्याशी अन्नपूर्णा देवी और भाकपा माले के राजकुमार यादव से है। इसके अलावा गोड्डा लोकसभा सीट से उनकी पार्टी के प्रदीप यादव प्रत्याशी हैं।

2007 में बाबूलाल के बेटे की हुई थी हत्या
26 अक्टूबर 2007 को गिरिडीह स्थित देवरी प्रखंड के चिलखारी गांव में फुटबॉल टूर्नामेंट के समापन पर सांस्कृतिक कार्यक्त्रम के दौरान करीब दस हजार लोगों की भारी भीड़ के बीच नक्सलियों ने अचानक अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इस घटना में 20 लोग मारे गए। इस नरसंहार में झारखंड के पूर्व सीएम व झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी के बेटे अनूप मरांडी की भी जान चली गई थी। जबकि बाबूलाल के छोटे भाई नुनूलाल बाल-बाल बच गए थे।

फरवरी -2018 में कांग्रेस जिलाध्यक्ष की हत्या
पिछले साल फरवरी में चंदवारा थाना क्षेत्र में सलहरा रोड पर पत्थर खदान के पास अपराधियों ने रिमोट कंट्रोल से ऑटो में विस्फोट कर कोडरमा के कांग्रेस जिला अध्यक्ष शंकर यादव की स्कॉर्पियो उड़ा दी थी। इसमें शंकर यादव (55) और उनके निजी बॉडीगार्ड कृष्णा यादव (40) की मौत हो गई थी।