-परिक्षार्थियों की सघन तलाशी के बाद दिया गया प्रवेश

-ट्रेनें और बसें रहीं फुल, सड़कों पर जाम से जूझे वाहन सवार

बरेली : एमबीबीएस और बीडीएस में प्रवेश के लिए सन डे को हुए नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) में अभ्यर्थियों को सघन तलाशी से गुजरना पड़ा। नकल सामग्री और डिवाइस की आशंका में लड़कियों के बालों तक पर मेटल डिटेक्टर घुमाया गया। कई छात्राओं की कान की बाली नोज ¨रग भी उतरवा ली गई।

16 सेंटर्स पर हुआ एग्जाम

शहर के 16 केंद्रों पर नीट परीक्षा हुई। दोपहर दो बजे से परीक्षा थी, लेकिन अभ्यर्थी 12 बजे से ही केंद्रों पर पहुंचने लगे थे। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के दिशा-निर्देशों का असर केंद्रों पर नजर आया। अधिकतर अभ्यर्थी लड़के-लड़कियां हाफ बाजू की शर्ट, टी-शर्ट और स्लीपर चप्पल पहनकर आए। कुछ तो लोअर में पहुंचे। जो छात्राएं फुल बाजू के कपड़े पहने थीं, उनकी अलग कक्ष में तलाशी ली गई तब प्रवेश मिला।

एटीएम कार्ड लेकर पहुंचा छात्र

एक परीक्षा केंद्र पर एक अभ्यर्थी जेब में एटीएम कार्ड लेकर पहुंच गया। उसका कार्ड परीक्षा के दौरान जमा करा लिया गया। कार्ड-जूते बाहर रखवाए गए। सभी केंद्रों पर तलाशी की वीडियो रिकॉर्डिग भी की गई।

यह बोले एक्सपर्ट

नीट की तैयारी कराने वाले गुरू द्रोणाचार्य एकेडमी के डायरेक्टर डॉ। अजय अरोरा के मुताबिक पेपर औसत आया। भौतिक या जीवन विज्ञान दोनों में बहुत मुश्किल प्रश्न नहीं थे। हां, भौतिक विज्ञान में कुछ प्रश्न कठिन थे। मेरिट पिछले साल की तरह ही रहने की उम्मीद है।

जाम से कराहा शहर

नीट की परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए दूर-दराज क्षेत्रों से आए छात्रों के साथ ही बरेलियंस को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। सबसे ज्यादा बदतर स्थिति ट्रेनों में रही परीक्षार्थियों को जहां जगह मिली वह घुस गया। जिससे कई ट्रेने फुल रहीं। जो भी ट्रेन जंक्शन पर पहुंच रही थी। परीक्षार्थियों का रैला ट्रेनों से उमड़ रहा था। वहीं बसों में भी खासी भीड़ रही। शहर के प्रमुख चौराहों पर दोपहर 12 बजे के बाद जाम की स्थिति बनी रही। जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

बोले अभ्यर्थी

-फिजिक्स में दो-तीन प्रश्न थोड़े कठिन थे। जिन पर ज्यादा समय देना पड़ा। ओवरऑल पेपर सामान्य रहा।

विकास, वीर सावरकर नगर

-पेपर अच्छा हुआ है। बायो-फिजिक्स दोनों में बहुत मुश्किल सवाल नहीं आए थे। उम्मीद है कि मेरिट में अच्छा स्कोर आएगा।

प्रदीप कुमार, भुता

-बायो के प्रश्न काफी आसान थे। कुल मिलाकर पेपर अच्छा हुआ है। पूरा भरोसा है कि अच्छी रैंक आएगी।

संजना, बीसलपुर