मुंबई (मिड-डे)। दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर 49 वर्षीय बुजुर्ग कामी रीता शेरपा ने 23वीं बार फतह हासिल की है। बता दें कि कामी ने 8,848 मीटर ऊंची इस चोटी पर पहुंचकर खुद का ही रिकॉर्ड तोड़ा है। पिछले साल उन्होंने 22वीं बार एवरेस्ट पर सफलतापूर्वक चढ़ाई करने का विश्व रिकॉर्ड बनाया था। सेवेन समिट ट्रेक्स के कंपनी चेयरमैन मिंगमा शेरपा ने कहा, 'सोलुखुंबू जिले के थामे गांव के कामी रीता शेरपा ने नेपाल की ओर से सुबह लगभग 7:50 बजे माउंट एवरेस्ट पर सफलतापूर्वक चढ़ाई की। रीता 1994 से माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई कर रहे हैं।

नेपाल में माउंट कंचनजंगा पर दो भारतीय पर्वतारोहियों की मौत, कुछ हो गए हैं हिमदाह के शिकार

2017 में ऐसा करने वाले तीसरे व्यक्ति बने थे कामी
1995 में हिमस्खलन व खराब मौसम के कारण उनका अभियान पूरा नहीं हो पाया था लेकिन उसके बाद से एवरेस्ट पर चढ़ने का उनका सिलसिला बदस्तूर जारी रहा। 2017 में 21वीं बार एवरेस्ट पर सफलतापूर्वक चढ़ाई कर वह ऐसा करने वाले दुनिया के तीसरे व्यक्ति बने थे। उनसे पहले यह रिकॉर्ड नेपाल के अप्पा शेरपा और फुर्बा ताशी शेरपा के नाम था। कामी ने 25 या उससे भी ज्यादा बार एवरेस्ट पर चढ़ने की इच्छा जताई है। गौरतलब है कि कामी ने इस बार सात अन्य शेरपाओं के साथ मंगलवार रात कैंप 4 से एवरेस्ट की चढ़ाई शुरू की थी। शेरपा विदेशी पर्वतारोहियों के लिए गाइड का काम करते हैं। वह उनके लिए एवरेस्ट पर चढ़ने का रास्ता तैयार करते हैं।

International News inextlive from World News Desk