-बिजली विभाग 40 मीटर केबल का नहीं लेगा कन्ज्यूमर से कोई चार्ज

- 50 रुपये प्रति किलोवाट का सिस्टम लोडिंग चार्ज भी नहीं देना होगा

-सिंगल फेस व थ्री फेज मीटर की दरों में की गई कमी

अगर आप पैसे के अभाव में अभी तक घर में बिजली का कनेक्शन नहीं ले पाए हैं तो यह खबर आपके लिए राहत भरी है। नए उपभोक्ताओं को अब कनेक्शन के लिए ज्यादा जेब ढीली नहीं करनी होगी। क्योंकि अब बिजली कनेक्शन लेना पहले से सस्ता हो जाएगा। उत्तर प्रदेश विद्युत नियामक आयोग ने नए कनेक्शन की दरों में कटौती करने का फैसला लिया है। नए कनेक्शन के लिए अब तक वसूला जा रहा 50 रुपये प्रति किलोवाट का सिस्टम लोडिंग चार्ज अब नहीं देना होगा। यही नहीं सिंगल फेस और थ्री फेज मीटर की दरों में भी कमी करने का फैसला लिया गया है। इसके अलावा दो आवेदक होने पर विभाग नए मीटर के साथ 40 मीटर की परिधि तक फ्री में तार और खंभे लगाकर कनेक्शन देगा। आयोग की ओर से जल्द ही कास्ट बुक/नई दरें जारी की जाएंगी।

मीटर का दाम भी हुआ कम

आयोग ने मीटर की कीमत में भी कटौती करने का फैसला लिया है। नई व्यवस्था में सिंगल फेस कनेक्शन पर पहले 980 रुपये लिए जाते थे, जिसे घटाकर 872 रुपये कर दिया गया है। इसी तरह से थ्री फेस मीटर पर पहले जहां 2956 रुपये लिया जाता था, अब उसके लिए 2668 लिया जायेगा। प्रीपेड मीटर की दरें लगभग पहले जैसी ही रहेंगी। प्रीपेड कनेक्शन में थ्री फेस मीटर की दर 12000 रुपये से 11341 रुपये कर दी गई है।

अनियोजित कॉलोनियों को राहत

अब एलटी वितरण लाइन के आगे 40 मीटर तक यदि उपभोक्ता भी एक साथ बिजली का कनेक्शन मांगेंगे तो विभाग उन्हें एक खम्भे की लाइन 40 मीटर की परिधि तक फ्री में बनाकर देगा। आपको बता दें कि पहले यह व्यवस्था सिर्फ तीन कनेक्शन की डिमांड पर लागू थी।

विद्युत नियामक आयोग के बैठक में बिजली उपभोक्ताओं के हित में कई फैसले लिए गये हैं। जिसका मकसद बिजली चोरी रोकने के साथ अनमीटर्ड घरों तक मीटर पहुंचाना है। आदेश मिलने के बाद इस व्यवस्था को लागू किया जाएगा।

आशीष अस्थाना, एई, पीवीवीएनएल