vijay.sharma@inext.co.in

JAMSHEDPUR: जमशेदपुर वर्कर्स कॉलेज में जल्द ही शहर के स्टूडेंट एमएससी मैथ एंड कम्प्यूटिंग कोर्स की पढ़ाई करेंगे. छात्र यह कोर्स करके सरकारी एंव प्राइवेट विभाग में अच्छी जॉब पा सकेंगे. यह जानकारी जमशेदपुर वर्कर्स कॉलेज के प्रधानाचार्य बीएन प्रसाद ने दी. उन्होंने बताया कि कोर्स की डिमांड और रोजगार परक होने के कारण ही दो साल के कोर्स के लिए कोल्हान विश्वविद्यालय को प्रपोजल भेजा गया है. उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय से अनुमति मिलने के बाद ही कोर्स को सत्र 2019-21 में शुरू किया जा सकेगा. उन्होंने बताया कि कोर्स की फीस पर कोल्हान यूनिवर्सिटी ही निर्णय लेगी.

शहर में नहीं है इसकी पढ़ाई

लैहनगरी में मैथ एंड कंप्यूटिंग कोर्स न कोर्स न होने से शहर के छात्रों को इसका फायदा मिलेगा. बताते चले कि शहर में बीएससी करने के बाद शहर कोई जॉब ओरियंटेड कोर्स न होने से छात्रों को बाहर जाकर कोर्स करना होता है. अगर शहर में कोर्स की अनुमति मिल जाती है तो यह छात्रों के लिए बेहतर होगा. शहर में ही कोर्स होने से छात्रों को भविष्य में लाभ मिलेगा.

इन-इन क्षेत्रों में कर सकते हैं काम

वर्कर्स कॉलेज के गणित विभाग के प्रोफेसर ने बताया कि कोर्स करने के बाद छात्र-छात्राएं इन्वेस्टमेंट बैंकिंग, फाइनेंसियल एंड बिजनेस एनालासिस, मार्केट रिसर्च डाटा एनालासिस, क्वानटिटेटिव एंड फायनेंस एनालासिस, इंफरमेशन टेक्नोलॉजी एंड रिसर्च एंड डेवलपमेंट आदि क्षेत्र में जॉब पा सकते हैं. उन्होंने बताया कि इसके लिए भारतीय सांख्यिकी और वित्य विभाग और आईटी क्षेत्र में अपना करयिर बना सकते हैं.

इन कंपनियों में मिल सकती है जॉब

एमएससी मैथ एंड कंप्यूटिंग कोर्स के बाद छात्र देश के साथ ही विदेशी कंपनियों में भी जॉब पा सकते है. वहीं छात्र कोजिनीजांट, टाटा कंल्सनटेंसी सर्विस, इंफोसिस, आईबीएम, पीसीएस, बैंक ऑफ अमेरिका, विप्रो जैसी कंपनियों में अच्छी जॉब पा सकते हैं. उन्होंने बताया कि इसमें छात्रों को स्ट्राटिंग में ही छह लाख रुपये तक का पैकेज मिल जाता है, जो बाद में इंक्सपीरियंस के हिसाब से बढ़ता रहता है.