- नगर निगम की ओर से चिन्हित गलियों में लगेंगी लाइटें

- एक निजी कम्पनी सीएसआर फंड से कराएगी काम, तैयारी शुरू

varanasi@inext.co.in

VARANASI

पुरानी काशी की अंधेरी गलियों को नगर निगम रोशन करेगा. इन गलियों में दस हजार एलईडी लाइट्स लगेंगी. एक निजी कम्पनी ने गलियों में लाइटें लगाने का प्रस्ताव नगर निगम को दिया है. प्रस्ताव स्वीकृत होने के बाद कम्पनी कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसबिलिटी (सीएसआर) फंड से काम कराएगी. नगर निगम ने हमेशा अंधेरे में रहने वाली करीब 350 गलियों को चिन्हित किया है. निगम कर्मियों ने इन गलियों का सर्वे पूरा कर लिया है. इसमें खासकर कोतवाली, आदमपुर और वरुणापार जोन की घनी आबादी वाले मोहल्लों की गलियां शामिल हैं.

रोशनी न होने की आई शिकायतें

शहर के सभी चौराहों, सड़कों और गलियों को जगमग करने के लिए नगर निगम की ओर से टोटल 36077 ट्यूबलाइट, हेलोजन, हाईमास्ट और सीएफएल लाइटें लगवाई गई थीं. बाद में जब ईईएसएल कम्पनी से नगर निगम का करार हुआ तो ईईएसएल ने पूरे शहर में चार हजार हेरिटेज लाइट और 38 हजार एलईडी लाइटें लगवाई. इसके बाद भी कुछ एरिया में रोशनी नहीं होने की शिकायत आने लगी. पब्लिक और पार्षदों ने नगर आयुक्त से इसकी शिकायत की. अफसरों की जांच में कई जगहों पर कार्यदायी संस्था की लापरवाही भी सामने आई.

पुरानी बदली जाएंगी

शहर के रोशनी से अछूते इलाकों में नई एलईडी लाइटें तो लगेंगी ही, कम रोशनी वाली और खराब लाइटें बदलने का प्रस्ताव भी तैयार किया गया है. अफसरों के मुताबिक पुरानी काशी के गंगा किनारे आठ किलोमीटर लम्बाई और दो किमी चौड़ाई एरिया में पुरानी लाइटें निकालकर नई लगाने का प्रस्ताव पास किया गया है. हालांकि फ‌र्स्ट फेज में अभी नई लाइटें लगाई जाएंगी. इसके बाद पुरानी लाइटों को बदलने का काम होगा.

एक निजी कम्पनी ने शहर के छूटे एरिया में नई एलईडी लाइटें लगाने का प्रस्ताव दिया है. जिसका प्रॉसेस चल रहा है. कुछ समय में लाइटें लगाने का काम शुरू करवाया जाएगा.

आरसी सिंह, संयुक्त नगर आयुक्त