85वां जन्मदिन मना रहे बॉब नहीं जीते एक भी मैच
कानपुर। क्रिकेट में आए दिन नए रिकॉर्ड बनते और टूटते हैं मगर इस बीच कुछ अनचाहे रिकॉर्ड ऐसे होते हैं तो जिंदगी भर खिलाड़ी के साथ रहते हैं। ऐसा ही एक अनचाहा रिकॉर्ड दर्ज है न्यूजीलैंड के पूर्व खिलाड़ी बॉब ब्लेयर के नाम। 23 जून 1932 को जन्में बॉब आज अपना 85वां जन्मदिन मना रहे हैं। बॉब को क्रिकेट छोड़े भले ही 54 साल हो गए लेकिन उन्हें टेस्ट क्रिकेट में कभी जीत न पाने का दुख आज भी सताता होगा। 11 साल लंबे क्रिकेटिंग करियर में बॉब ने जितने मैच खेले या तो वो ड्रा रहे या फिर उन्हें हार मिली।

दुखी मन के साथ किया था डेब्यू

ईएसपीएन क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, बॉब ब्लेयर दाएं हाथ के तेज गेंदबाज थे। साल 1953 में उन्होंने पहला टेस्ट मैच खेला था और डेब्यू मैच ही उनके लिए कभी न भूलने वाला बन गया। मैच के कुछ घंटे पहले ही बॉब को पता चला कि उनकी मंगेतर की ट्रेन एक्सीडेंट में मौत हो गई। इसके बावजूद बॉब ने दुखी मन से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रख और पहले ही मैच में शानदार प्रदर्शन किया। साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले गए इस मैच में न्यूजीलैंड को जीत भले ही न मिली हो परंतु डेब्यू मैच में बॉब ने 4 विकेट लेकर अपनी काबिलियत का परिचय दे दिया था।

कुल 19 टेस्ट मैच खेले
बॉब ने अपने एक दशक के क्रिकेट करियर में कुल 19 टेस्ट मैच खेले जिसमें उन्हें 13 में हार मिली बाकी ड्रा रहे। यानी कि टेस्ट में जीत का सपना उनका अधूरा ही रह गया। गेंदबाजी की बात करें तो इस तेज गेंदबाज के नाम 43 विकेट दर्ज हैं। बॉब का बैटिंग रिकॉर्ड भी काफी रोचक है अपनी 34 टेस्ट पारियों में यह खिलाड़ी सिर्फ दो बार ही दहाई के अंक तक पहुंचा, इनका सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर नाबाद 64 रन है।

टूटी पसली के साथ खेलने वाले इस क्रिकेटर को मिला था वनडे का पहला 'मैन ऑफ द मैच'

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम इस समय बुरे हालात में, 2018 में जीत पाए सिर्फ 1 मैच

Cricket News inextlive from Cricket News Desk