क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : राज्य सरकार ने 10 मार्च को झारखंड अल्पसंख्यक आयोग, समाज कल्याण बोर्ड और राज्य महिला आयोग के अध्यक्ष व सदस्यों के नाम का तो ऐलान कर दिया, लेकिन गजट में अधिसूचना जारी नहीं होने से नवनियुक्त अध्यक्ष व सदस्य पदभार ग्रहण नहीं कर सके हैं. ऐसे में एक तरफ इन्हें हर दिन बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है तो दूसरी तरफ वे यह भी जानना चाह रहे हैं कि वे कब से विधिवत कामकाज शुरू करेंगे. हालांकि, इस मुद्दे पर वे कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं, लेकिन चेहरे का हावभाव बता रहा है कि इन्हें बस अधिसूचना जारी होने का बेसब्री से इंतजार है.

अखबारों से मिली जानकारी

झारखंड अल्पसंख्यक आयोग, समाज कल्याण बोर्ड और राज्य महिला आयोग के लिए चुने गए कुछ सदस्यों ने बताया कि उन्हें इसकी जानकारी अखबारों के ही माध्यम से मिली है. शुभचिंतकों से बधाई भी स्वीकार कर रहे हैं, लेकिन अभी तक कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है. पिछले 10 दिनों से हर दिन सुबह अखबार देखते हैं कि इस बाबत अधिसूचना जारी हुई है अथवा नहीं.

नहीं मिल रही कोई जानकारी

नवनियुक्त सदस्यों ने कहा है कि उन्हें यह पता नहीं है कि इसकी अधिसूचना किस विभाग से और कब जारी होगी. बस अखबारों के माध्यम से जानकारी मिली कि हमें आयोग के लिए चुना गया गया है. इस बाबत संबंधित विभागों के अफसरों से भी कोई कम्यूनिकेशन नहीं हो पाया है.

इंतजार में अधिकारी-कर्मचारी

झारखंड अल्पसंख्यक आयोग, समाज कल्याण बोर्ड और राज्य महिला आयोग के दफ्तर में कार्यरत अधिकारियों और कर्मचारियों को भी अध्यक्ष व सदस्यों के पदभार ग्रहण करने का बेसब्री से इंतजार है. मालूम हो कि समाज कल्याण बोर्ड मे दो साल से अध्यक्ष नहीं है, जिस कारण यहां कर्मचारियो को वेतन के लाले पड़ गए हैं. यही हाल राज्य महिला आयोग और अल्पसंख्यक आयोग का है जहां छह महीने से अध्यक्ष का पद खाली है.

किस आयोग के कौन बने हैं अध्यक्ष व सदस्य

मो कमाल खान को राज्य अल्पसंख्यक आयोग, कल्याणी शरण को राज्य महिला आयोग और ऊषा पांडेय को समाज कल्याण बोर्ड का अध्यक्ष बनाया गया है. कमाल खां को कैबिनेट मंत्री तो कल्याणी शरण एवं ऊषा पांडेय को राज्यमंत्री का दर्जा दिया गया है. इसके अलावे अल्पसंख्यक आयोग में तीन उपाध्यक्ष भी बनाए गए हैं, जिनमेंरांची के गुरविंदर सिंह सेठी, जमशेदपुर के गुरुदेव सिंह राजा और चक्रधरपुर के अशोक षाडंगी का नाम शामिल है. खादी बोर्ड में भी अमरनाथ चौधरी, मो रब्बानी, रत्‍‌ना सिन्हा, ममता शाह व कुलवंत सिंह बेदी को सदस्य बनाया गया है.