दुबई (पीटीआई)। दुबई में भारत के कौंसल जनरल ने बताया कि यूएई में भारतीय प्रवासियों के लिए कोई ऑनलाइन वोटिंग नहीं होगी। इसके साथ उन्होंने उस अफवाहों को खारिज कर दिया, जिसमें कहा जा रहा था कि भारत के लोकसभा चुनाव 2019 के लिए एनआरआई भी संभवतः दुबई में ऑनलाइन वोटिंग कर सकेंगे। भारतीय प्रवासियों ने इन अफवाहों को लेकर शिकायत दर्ज कराई है, उनका कहना है कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर भ्रामक पोस्टों के चलते लोग झूठी उम्मीदों में जी रहे हैं, वे पोस्ट यह सुझाव देते हैं कि अप्रवासी भारतीय (एनआरआई) 2019 चुनावों के लिए ऑनलाइन वोट कर सकते हैं।

पोलिंग बूथ पर सिर्फ वोटिंग की सुविधा

यूएई में भारी अफवाहों को देखते हुए दुबई में भारत के कौंसल जनरल ने कहा कि 2019 चुनाव के लिए कोई भी ई-वोटिंग नहीं होगी। उन्होंने कहा, 'नेशनल वोटर्स सर्विस पर कोई भी रजिस्टर कर सकता है और मतदाता सूची में अपना नाम सुनिश्चित कर सकता है। 2019 के चुनाव में वोट देने का सिर्फ एक ही रास्ता, इच्छुक व्यक्ति केवल खुद पोलिंग बूथ पर जाकर मतदान कर सकता है।' कई भारतीय प्रवासियों के अनुसार, सोशल मीडिया पर ऑनलाइन वोटिंग की अफवाहें करीब जनवरी से ही घूम रहीं थीं। कुछ लोगों ने तो इस पर विश्वास भी कर लिया था, जबकि अन्य लोगों ने इस खबर का पता लगाने के लिए चुनाव आयोग के आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट किया।

जनवरी से वायरल हो रहा मैसेज

दुबई में करीब 15 सालों से एक सरकारी अधिकारी के रूप में काम करने वाली लिंसी मोंस ने बताया, 'मैं पिछले सप्ताह में कई व्हाट्सएप ग्रुप्स से यह मैसेज प्राप्त कर रही हूं। मैंने पहली बार जनवरी में इन मैसेजों को देखा था और अब इसकी संख्या बढ़ गई है। मेरे पति पहले ही भारत के लिए निकल चुके हैं और 21 अप्रैल को कोट्टायम में अपना वोट डालेंगे। जब मैनें यह पोस्ट देखी तो मुझे बहुत ख़ुशी हुई और यही सोच रही थी कि वह यहां भी वोट डाल सकते थे। बाद में पता चला कि यह खबर झूठी है। यहां कई लोग अपने मताधिकार का फायदा उठाना चाहते हैं, इसलिए यह खबर सभी को सच्ची लग रही है।'

लोकसभा चुनाव 2019 : मतदान में पिछड़ी आधी आबादी

Uttar Pradesh (UP) Lok Sabha Voting 2019 Phase 1 Live Update:पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश की 8 सीटों पर हुआ 63.69 प्रतिशत मतदान

International News inextlive from World News Desk