RANCHI: एचइसी में म्भ्म्.ब्फ् एकड़ में बननेवाली स्मार्ट सिटी कैसी हो, इससे आम लोगों को कोई लेना-देना नहीं है. जी हां, नगर विकास विभाग ने अपनी वेबसाइट पर लेआउट प्लान जारी कर राज्य के आमलोगों से क्भ् अगस्त तक ईमेल या लेटर के जरिए सुझाव मांगा था, लेकिन इस संबंध में आम लोगों ने अपनी कोई राय नहीं दी है. ऐसे में विभाग की ओर से शुक्रवार को प्रोजेक्ट बिल्डिंग में स्टेक शेयर होल्डर्स की मीटिंग बुलाई गई है, जिसमें लोगों से राय ली जाएगी. इसके बाद कैबिनेट को अप्रूवल के लिए भेजा जाएगा. गौरतलब हो कि स्मार्ट सिटी पीएम मोदी की महत्वाकांक्षी योजना है, लेकिन इसको लेकर राजधानी के लोगों में कोई इंट्रेस्ट नहीं है.

ईमेल के जरिए मांगे गए थे सुझाव

नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव अरुण सिंह द्वारा जारी नोटिस में कहा गया है कि झारखंड सरकार रांची को स्मार्ट सिटी बनाना चाहती है. यह एक नॉलेज हब भी होगा, जहां फ ॉर्मल और नॉन फ ॉर्मल सेक्टर के बेहतरीन शैक्षणिक संस्थान भी होंगे. ताकि नॉलेज बेस्ड इंडस्ट्रीज का विकास हो सके. यहां एक सुव्यवस्थित ट्रैफि कव ट्रांसपोटेशन सिस्टम भी आईटी बेस्ड होगा. इसके लिए एक ड्राफ्ट लेआउट प्लान व कॉन्सेप्ट प्लान जारी किया गया है. इसके लिए आम लोगों से ईमेल या लेटर के जरिए विभाग की वेबसाइट पर सुझाव मांगे गए थे.

यहां से बॉक्स में लेंगे ...

ऐसी होगी स्मार्ट सिटी

बताया गया कि रांची स्मार्ट सिटी से प्रोजेक्ट भवन व धुर्वा चौक की दूरी शून्य किमी है. वहीं कोर कैपिटल सिटी तीन किमी, हटिया रेलवे स्टेशन एक किमी, जेएससीए क्रिकेट स्टेडियम ख्.भ् किमी, जगन्नाथपुर मंदिर क्.भ् किमी, एचईसी लिमिटेड शून्य किमी पर है. यह एनएच-7भ् व धुर्वा रोड से जुड़ा होगा. भविष्य में लाइट रेल ट्रांजिट कॉरिडोर व बीआरटी कॉरिडोर से भी जुड़ेगा.

मिलेंगी ये सुविधाएं

स्किल डेवलपमेंट पार्क, स्टूडेंट रिसोर्स सेंटर, टेक्निकल कॉलेज, यूनिवर्सिटी कैंपस, गरीबों, मध्यम वर्ग व उच्च वर्ग के लिए आवास, हॉस्टल, कन्वेंशन सेंटर, होटल,कॉमर्शियल सेंटर, शॉपिंग मॉल, वेंडिंग जोन, सरकारी कार्यालय, पब्लिक फैसिलिटी सेंटर, एसटीपी सब स्टेशन का निर्माण, मिक्स लैंड यूज, ट्रांजिट हब, ट्रांसपोर्ट व सर्कुलेशन, ओपेन स्पेस व पार्क.

.........

क्या है स्मार्ट सिटी प्लान

क्या बनेगा एकड़ परसेंटेज

संस्थान क्फ्ब्.0म् ख्0

आवासीय 8म्.भ्क् क्फ्

कॉमर्शियल म्7.07 क्0

पब्लिक,सेमी पब्लिक भ्ब्.म्0 8

मिक्स यूज कॉम्पोनेंट म्9.क्ब् क्क्

ओपेन स्पेस व सर्कुलेशन ख्ब्भ्.0भ् फ्8

........

वर्जन

स्मार्ट सिटी कैसी हो. इसको लेकर विभाग की वेबसाइट पर लोगों से राय मांगी गई थी. लेकिन बहुत कम लोगों ने अपनी राय दी है. अब हमलोग स्टेक शेयर होल्डर्स के साथ सीधी बात करेंगे. उनकी अगर कोई अच्छी राय होगी तो उसे स्मार्ट सिटी में शामिल किया जाएगा.

-राजेश कुमार, डायरेक्टर, सुडा