-चार महीने पहले ही फुल हो चुकी हैं मेट्रो सिटीज की ट्रेंस

-अगले दिन काउंटर पर पहुंचने वालों को नहीं मिल रहे कंफर्म टिकट

varanasi@inext.co.in

VARANASI

तीन महीने बाद अक्टूबर में पड़ने वाले दूर्गापूजा के लिए ज्यादातर ट्रेंस अभी से फुल हो गई हैं, वहीं नवंबर में छठ पर भी यही स्थिति है. लगभग सभी ट्रेंस में कंफर्म टिकट खत्म होने की ओर है. नियमानुसार ट्रेंस में 120 दिन पहले बुकिंग की प्रक्रिया है. ऐसे में यूपी व बिहार का सबसे बड़ा महापर्व छठ नवंबर में पड़ रहा है. लेकिन ट्रेंस के आरक्षित सीटों की स्थिति अभी से ही फुल हो जा रही है. खासतौर से कैंट स्टेशन और मंडुवाडीह स्टेशन से ओरिजिनेटेड महानगरी एक्सप्रेस, वाराणसी-दादर सुपरफास्ट एक्सप्रेस में नौ एवं 10 नवंबर को एसी की सीटें लगभग फुल हो चुकी है और स्लीपर की जो सीटें खाली है वो भी एक-दो दिनों में फुल हो जाएगी. इसके बाद वेटिंग के टिकट से ही संतोष करना पड़ेगा. दूसरी ओर नई दिल्ली, मुंबई, अहमदाबाद, जयपुर व अन्य इलाकों में वाराणसी, चंदौली, जौनपुर, भदोही और गाजीपुर सहित आसपास जिले के जो भी लोग नौकरी, व्यवसाय व पढ़ाई कर रहे हैं, वे भी लंबी दूरी की ट्रेनों में आरक्षण करा रहे हैं. रिजर्वेशन काउंटर खुलते ही टिकट बुक हो जा रही है. रेलवे ने अभी तक दूर्गापूजा, दीपावली व छठ जैसे पर्व को लेकर स्पेशल ट्रेन चलाने की घोषणा नहीं की है. ऑफिसर्स के मुताबिक पैसेंजर्स की भीड़ को देखते हुए स्पेशल ट्रेन चलायी जाती है.