शिंजो आबे
जापान में एक बार फिर शिंजो आबे को प्रधानमंत्री पद के लिये चुना गया है। 2007 में पहली बार उन्‍हें जापान के प्रधानमंत्री के तौर पर चुना गया था। वो लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी के अध्‍यक्ष भी हैं। उन्‍हें 2007, 2012, 2014 और अब 2017 में चौथी बार प्रधानमंत्री चुना गया है। जापान की जनता उन्हें अमेरिका के रोनाल्ड रीगन की तरह देखती है। शिंजो पिछले 10 सालों से सत्‍ता में हैं।
शिंजो ही नहीं दुनिया के इन नेताओं को भी लोगों ने चुना बार-बार

एंजेला मर्केल

एंजेला डोरोथी मर्केल जर्मनी एक भूतपूर्व शोध वैज्ञानिक हैं जो 2005 से जर्मनी की चांसलर हैं। मर्केल साल 2000 से क्रिस्टियन डेमोक्रेटिक यूनियन जर्मनी की नेता हैं। वे जर्मनी की पहली महिला हैं जो इन सर्वोच्‍च पदों पर पहुंची हैं। मर्केल पिछले 12 साल से सत्ता में हैं। यह चौथी बार है जब मर्केल जर्मनी की चांसलर का पद संभालेंगी।
शिंजो ही नहीं दुनिया के इन नेताओं को भी लोगों ने चुना बार-बार

व्‍लादीमीर पुतिन
रूस के राष्ट्रपति व्‍लादीमीर पुतिन ने पांच बार देश के प्रमुख पदों पर कार्य भार संभाला है। दो बार वे रूस के प्रधानमंत्री और तीन बार राष्‍ट्रपति के रूप में पद पर आसीन रहे। राष्‍ट्रपति के रूप में उनका पहला कार्यकाल साल 2000 से 2004 तक रहा। उन्‍होंने 7 मई 2000 को पहली बार राष्ट्रपति का कार्यालय संभाला था। उनका दूसरा कार्यकाल साल 2004 से 2008 तक रहा था। पुतिन सन् 2004 में 71 प्रतिशत मतों के साथ दोबारा राष्ट्रपति पद के लिए निर्वाचित हुए थे। राष्ट्रपति के रूप में उनका तीसरा कार्यकाल साल 2012 से अब तक चल रहा है। 4 मार्च 2012 को उन्‍होंने 63.6% मतों के साथ राष्ट्रपति पद का चुनाव पहले ही दौर में जीत लिया था।
शिंजो ही नहीं दुनिया के इन नेताओं को भी लोगों ने चुना बार-बार

इंदिरा गांधी
भारत में भी पहली बार किसी महिला के प्रधानमंत्री बनने के साथ श्रीमती इंदिरा गांधी ने साल 1966  में देश की तीसरी प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार ग्रहण किया था। वे तीन बार भारत की धानमंत्री बनीं। 1971 में श्रीमती गांधी ने चुनाव जीता और प्रधानमंत्री बनीं। उनका ये दूसरा कार्यकाल था जो 1971 से 1975 तक रहा। इसके बाद आपात काल के चलते वे चुनाव हार गईं। 1980 के चुनाव में वे फिर विजयी रहीं। इस तरह बतौर प्रधानमंत्री उनका तीसरा कार्यकाल 1980 से 1984 में उनकी हत्‍या होने तक मृत्‍युपर्यंत चला।
शिंजो ही नहीं दुनिया के इन नेताओं को भी लोगों ने चुना बार-बार

International News inextlive from World News Desk

Business News inextlive from Business News Desk